क्या होता है गुरु पूर्णिमा का धार्मिक महत्व

Jul 02 2020 11:20 AM
क्या होता है गुरु पूर्णिमा का धार्मिक महत्व

आप सभी जानते ही होंगे हर साल आने वाली गुरु पूर्णिमा इस साल जुलाई महीने की 5 तारीख को आने वाली है। वैसे गुरु पूर्णिमा के अवसर पर चंद्र ग्रहण भी लग रहा हैं। आप जानते ही होंगे सनातन परंपरा में गुरु को ईश्वर से भी ऊंचा माना जाता हैं। अब आज हम आपको बताने जा रहे हैं हिंदू धर्म में गुरु पूर्णिमा का क्या महत्व होता हैं। वैसे हिंदू धर्म में गुरु और ईश्वर दोनों को एक ही कह दिया जाए तो गलत नहीं है।

जी दरअसल गुरु को भगवान के समान माना जाता हैं और भगवान ही गुरु कहे जाते हैं। आप सभी को बता दें की गुरु ही ईश्वर को प्राप्त करने और इस संसार रूप भव सागर से निकलने का मार्ग बताते हैं। जी दरअसल अगर गुरु के बताए मार्ग पर चला जाए तो इंसान शांति, आनंद और मोक्ष को प्राप्त करता हैं। वहीँ अगर शास्त्रों और पुराणों की माने तो भक्त से भगवान नाराज हो जाते हैं तो गुरु ही रक्षा करते हैं और उपाय बताते हैं। ऐसी मान्यता है कि गुरु पूर्णिमा पर गुरु की पूजा की जाती हैं देश में गुरु पूर्णिमा का बहुत अधिक महत्व होता हैं गुरु पूर्णिमा को लोग बड़े ही उत्साह और जोश के साथ मनाते हैं। इसके अलावा आप जानते ही होंगे भारत ऋषियों और मुनियों का देश हैं जहां पर इनकी उतनी ही पूजा होती हैं जितना भगवान की।

ऐसे में महर्षि वेद व्यास प्रथम विद्वान थे, जिन्होंने हिंदू धर्म के चारों वेदों की व्याख्या की थी साथ ही सिख धर्म केवल एक ईश्वर और अपने दस गुरुओं की वाणी को ही जीवन का वास्तविक सत्य मानता है। जी हाँ, केवल इतना ही नहीं बल्कि गुरु पूर्णिमा महाकाव्य महाभारत के रचयिता कृष्ण द्वैपायन व्यास का जन्म दिवस के रूप में मनाते हैं और आप जानते ही होंगे वेदव्यास संस्कृत के महान ज्ञाता थे।

शुरू हो चुका है जुलाई का महीना, यहाँ जानिए इस महीने के व्रत और त्यौहार

5 जुलाई को लगेगा चंद्र ग्रहण, यहाँ जानिए सेहत और आहार से जुड़ी मान्यताएं

कब है गुरु पूर्णिमा, जानिए तिथि प्रारंभ का समय