नेपाल में भी ऑक्सीजन को लेकर हाहाकार, 16 कोरोना मरीजों की मौत

काठमांडू: नेपाल में ऑक्सीजन की किल्लत के कारण मरीजों को समस्या का सामना करना पड़ रहा है। अधिकारियों ने कहा कि ऑक्सीजन की कमी के चलते कोविड-19 से संक्रमित 16 मरीजों की हाल में मौत हो गई है। नेपाल में कोरोना संक्रमण के अब तक कुल 4,13,111 मामले सामने आए हैं, जबकि कुल 4084 लोगों की मौत हुई है। 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, सरकार ने बुधवार को प्राइवेट अस्पतालों से कहा है कि वे ऑक्सीजन की डिमांड को पूरा करने के लिए 15 दिन में ऑक्सीजन संयंत्र लगवा लें। फैसले के अनुसार, 100 बिस्तरों से अधिक की क्षमता वाले सभी अस्पतालों को अपने ऑक्सीजन संयंत्र लगवाने होंगे और सरकार इस बाबत आवश्यक सहयोग देगी। स्वास्थ्य एवं जनसंख्या मंत्रालय ने कहा कि तमाम अस्पतालों की जिम्मेदारी है कि वे अपने खुद के ऑक्सीजन संयंत्र स्थापित करें। मंत्रालय के प्रवक्ता डॉ जोगेश्वर गौतम ने कहा कि, ' कई प्राइवेट अस्पतालों ने ऐसा नहीं किया है, हम कोरोना मरीजों के लिए ऑक्सीजन की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए संयंत्र स्थापित करने में उनकी सहायता करेंगे।' 

सरकार ने अनुमान जताया है कि ऑक्सीजन की वर्तमान मांग को पूरा करने के लिए करीब 15,000 ऑक्सीजन सिलेंडरों की दरकार है। इसके विपरीत, देश में सिर्फ तक़रीबन 8,000 ऑक्सीजन सिलेंडर हैं। महामारी से निपटने के लिए एक शीर्ष सरकारी निकाय कोरोना वायरस संकट प्रबंधन केंद्र ने बुधवार की बैठक में बताया गया कि जुलाई के आखिर तक देश को 50,000 ऑक्सीजन सिलेंडरों की जरुरत हो सकती है।

इजराइल की तनातनी के बीच ब्रिटिश एयरवेज ने तेल अवीव के लिए रद्द की उड़ान

बम हमले के कारण घायल हुए मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद नशीद की हालत स्थिर

अल्पसंख्यक और मानवाधिकार: अल्पसंख्यकों की रक्षा के लिए भारत के साथ है अमेरिका

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -