लाखों के सामान पर थूककर महिला ने कहा था- 'मैं कोरोना पॉजिटिव हूँ', अब मिली ये सजा

कोरोना महामारी के चलते आज भी पूरी दुनिया परेशान है। इस महामारी की पहली और दूसरी लहर ने भयंकर तबाही मचाई। इसी के चलते आज भी ज्यादातर लोग कोरोना के नाम से भी डरते हैं। वैसे कुछ लोग इस बात का फायदा भी उठा रहे हैं। जी हाँ, कुछ लोग कोरोना के नाम का फायदा उठाकर दूसरों को धमका रहे हैं। ऐसा ही कुछ हुआ था पिछले दिनों। जी दरअसल बीते दिनों एक महिला ने सुपरमार्केट में छींक दिया था और वहां रखे हुए खाने के सामान पर थूक दिया था। वहीँ इसके बाद महिला ने ये भी चिल्लाना शुरू किया था कि वो कोरोना पॉजिटिव है। उसके इस कारनामे को बाद में खुद उसी ने प्रैंक बताया था।

लेकिन अब उसकी इस हरकत के लिए उसे दो साल की सजा सुनाई गई है। जी हाँ, सामने आने वाली रिपोर्ट के मुताबिक 37 साल की मार्गेरेट एन सिरको मार्च के महीने में गेरिटी सुपरमार्केट में गई थीं और उन्होंने वहां जाकर अचानक से छींकना शुरू किया। केवल यही नहीं बल्कि वे वहां जोर से चिल्लाकर कह रही थीं कि अब यहां सबको कोरोना हो जाएगा और सब मर जाएंगे। यह सब होने के बाद वहां की लोकल पुलिस ने इस मामले में महिला को गिरफ्तार किया था और उन्हें अब उसे दो साल कैद और इसके बाद 8 साल के प्रोबेशन की सजा सुनाई गई है। इस वजह से एक बार फिर से मार्गेरेट दुनियाभर में सुर्खियां बटोर रही है।

आप सभी को बता दें कि मार्गेरेट की इस हरकत के बाद सुपरमार्केट को तकरीबन 35 हजार डॉलर्स का सामान स्टोर से बाहर फेंकना पड़ा था।केवल यही नहीं बल्कि बल्कि वहां पहुंचे लोगों के साथ स्टाफ में भी काफी डर पैदा हो गया था। उस समय मार्गेरेट की इस हरकत को लेकर सुपरमार्केट के मालिक जोए फासुला ने फेसबुक पर एक पोस्ट भी शेयर किया था। यह सब होने के बाद लोगों ने महिला को खूब खरीखोटी सुनाई थी। अब इस मामले में कोर्ट ने महिला पर किसी तरह की नरमी नहीं बरती और सजा के साथ ही 30 हजार डॉलर्स का भुगतान करने को भी कहा।

IPO के बाद अब रूचि सोया का FPO लेकर आ रहे बाबा रामदेव, जानिए दोनों में क्या है अंतर

केंद्र की 6 लाख करोड़ रुपये की संपत्ति मुद्रीकरण योजना का ध्वजवाहक होगा NHAI

सिद्धू के 'विवादित' सलाहकार मालविंदर सिंह का इस्तीफा, इन बयानों पर मचा था बवाल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -