Share:
स्पाइसजेट के प्लेन से बार-बार क्यों निकल रहा धुआं ? DGCA ने उठाया बड़ा कदम
स्पाइसजेट के प्लेन से बार-बार क्यों निकल रहा धुआं ? DGCA ने उठाया बड़ा कदम

नई दिल्ली: नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (DGCA) ने स्पाइस जेट (Spicejet) से इंजन निर्माता प्रैट एंड व्हिटनी को प्रत्येक 15 दिनों में तेल के सैंपल भेजने के लिए कहा है। दरअसल, हाल ही में स्पाइस जेट की हैदराबाद में इमरजेंसी लैंडिग कराई गई थी, जिसके बाद अब इसके तेल सैंपल को इंजन निर्माता के पास भेजने के निर्देश दिए गए हैं। विमानन नियामक ने एयरलाइन से एक सप्ताह के अंदर ऐसे सभी 28 इंजनों का एक बार बोरोस्कोपिक निरीक्षण करने के लिए कहा है।

बता दें कि, गोवा से आ रहे स्पाइस जेट के विमान की हैदराबाद में बुधवार रात इमरजेंसी लैंडिंग कराई गई थी। जानकारी के अनुसार, स्पाइस जेट के विमान के पायलट को कॉकपिट और कैबिन में धुआं नज़र आया था। इसके बाद फ्लाइट को बगैर देर किए हैदराबाद में लैंड किया गया। विमान की हवाई अड्डे पर सुरक्षित लैंडिग कराई गई और लोगों को इमरजेंसी एक्जिट के जरिए विमान से उतारा गया। जानकारी के अनुसार, हैदराबाद हवाई अड्डे के अधिकारी ने जानकारी दी थी कि फ्लाइट Q400 एयरक्राफ्ट VT-SQB में 86 पैसेंजर्स मौजूद थे। इसके इमरजेंसी लैंडिंग के बाद इस रूट के 9 विमानों को डायवर्ट किया गया। 

यह इमरजेंसी लैंडिंग रात लगभग 11 बजे की गई थी। वहीं एक यात्रु ने फ्लाइट में जब धुंआ उठा तो उसकी तस्वीर ले ली और ट्विटर पर पोस्ट करते हुए अपना अनुभव साझा किया। इसके अलावा 2 अन्य वीडियो साझा किए गए, जिनमें इमरजेंसी लैंडिंग होते हुए दिखी। बता दें कि, स्पाइस जेट के विमान में धुआं निकलने की यह कोई पहला मामला नहीं थी। इससे पहले भी इस तरह की घटना सामने आ चुकी हैं। यही कारण है कि अब DCGA ने स्पाइस जेट से प्रत्येक 15 दिनों में तेल सैंपल भेजने को कहा है।

RBI अधिकारीयों की मिलीभगत से देश में हुए बड़े बैंक घोटाले ? सुप्रीम कोर्ट ने जारी किया नोटिस

SBI ने अपने कस्टमर्स को दिया दिवाली गिफ्ट, आज से FD पर मिलने वाले ब्याज की दरें बढ़ीं

बद्रीनाथ धाम पहुंचे मुकेश अंबानी, आम भक्तों की तरह किए दर्शन, दान किए इतने करोड़

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -