कोरोना वैक्सीन को लेकर WHO का बड़ा बयान, कहा- "बच्चों को वैक्सीन लगाने के स्थान पर गरीब देशों...."

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने शुक्रवार को अमीर देशों से अनुरोध किया है कि वह बच्चों के वैक्सीनेशन के बारे में फिर से सोचें। WHO ने इन देशों को राय दी कि इसके बच्चों को वैक्सीन लगाने के स्थान पर गरीब देशों को कोविड-19 वैक्सीन दान किया जाए। बता दें कि कई देशों में बच्चों को वैक्सीन देने की चर्चा तेजी से बढ़ रही है।

भारत में कोविड से बिगड़े हालात पर भी WHO ने भी चिंता व्यक्त की है, WHO प्रमुख टेड्रोस अदनोम ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोला है कि भारत में कोविड की स्थिति बहुत चिंताजनक है। उन्होंने ये भी बोला कि कोविड की ये दूसरी लहर अधिक जानलेवा साबित हो सकती है। टेड्रोस ने बोला कि वो भारत के हालात पर नज़रे टिकाए हुए है। उनकी तरफ से हर तरह की जरूरी सहायता भी पहुंचाई जा रही है। मास्क के साथ कई मेडिकल सामान भारत के लिए भेजे जा रहे है।

वहीं यह भी कहा जा रहा है कि भारत में तक़राबन 20 दिन से अधिक हो गए जब कोविड के केस 3 लाख से अधिक आर रहे हैं वहीं बीते कुछ दिनों से तो 4 हजार से अधिक लोगों को हर दिन मौत भी हो रही है। देश के कई राज्यों की हालत बहुत खराब है। भारत में कोविड के मामले दिसंबर तक 10 मिलियन के करीब थे, लेकिन सिर्फ 6 माह में ही ये करीब दोगुने हो चुके हैं। 20 मिलियन से अधिक लोग इस वायरस की चपेट में आ गए  हैं। भारत में शुक्रवार प्रातः 8 बजे तक कोविड के 3,43,144 नए केस देखने को मिले थे, इस बीच 4,000 लोगों की जान जा चुकी है। इस बीच 22 दिनों में भारत में तीन-लाख से अधिक कोविड के केस सामने आए हैं। एक्टिव मामले में महाराष्ट्र अब दूसरे नंबर पर है। वहां 24 घंटों में 12,803 केस की कमी देखी गई है। फिलहाल, कर्नाटक सबसे अधिक केस केस वाला राज्य बन गया है।

महाराष्ट्र: बच्चों पर मंडराया कोरोना का काला साया, रिपोर्ट नेगेटिव लेकिन एंटीबॉडी पॉजिटिव

बढ़ सकती हैं मंत्री धनंजय मुंडे की मुश्किलें, प्रेमिका लिखेगी प्रेमकथा पर किताब

इंग्लैंड दौरे के लिए BCCI ने किया भारतीय महिला क्रिकेट टीम का ऐलान, जानें किसे मिला मौका

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -