भारत निर्मित कोवैक्सिन को आज हरी झंडी दे सकता है WHO

नई दिल्ली: विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) आज भारत में निर्मित कोविड-19 वैक्सीन (कोवैक्सिन) को मंजूरी दे सकता है. WHO की टेक्नीकल कमेटी आज भारत बायोटेक के कोवैक्सिन को आपातकालीन इस्तेमाल सूची (EUL) में शामिल करने के मुद्दे पर मीटिंग करने वाला है. इससे पहले कमेटी दो दफा कोवैक्सिन बनाने वाली कंपनी भारत बायोटेक से स्पष्टीकरण मांग चुका है.

पिछले हफ्ते विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के तकनीकी सलाहकार समूह ने भारत के स्वदेश निर्मित कोविड रोधी टीके ‘कोवैक्सीन’ को आपातकालीन इस्तेमाल की फेहरिस्त में शामिल करने के लिए अंतिम 'लाभ-जोखिम मूल्यांकन' करने के लिए भारत बायोटेक से ”अतिरिक्त स्पष्टीकरण” मांगा था. तकनीकी सलाहकार समूह अब अंतिम मूल्यांकन के लिए आज यानी तीन नवंबर को मीटिंग करने वाला है.

इससे पहले हुई बैठक को लेकर WHO ने कहा था कि, ‘तकनीकी सलाहकार समूह ने मीटिंग में फैसला किया कि टीके के वैश्विक उपयोग को देखते हुए अंतिम लाभ-जोखिम मूल्यांकन के वास्ते निर्माता से अतिरिक्त स्पष्टीकरण मांगे जाने की आवश्यकता है.’ यह दूसरी बार था जब WHO ने भारत बायोटेक से स्पष्टीकरण की मांग की थी. बता दें कि WHO पहले ही यह स्पष्ट कर चुकी है कि टीका सुरक्षित और असरदार है यह सुनिश्चित करने के लिए उसका पूरी तरह से मूल्यांकन करना होगा.

छोटी दिवाली पर पेट्रोल-डीजल को लेकर आई अच्छी खबर, जानिए आज का भाव

जेपी नड्डा ने कहा- ''एनडीए सरकार आम आदमी की प्रगति के लिए...''

डाबर का दूसरी तिमाही का मुनाफा 4.6 फीसदी से बढ़कर हुआ इतना

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -