भारत की रफ़्तार पर कौन लगाना चाह रहा ब्रेक ? अब आंध्र में वंदे भारत एक्सप्रेस पर हमला
भारत की रफ़्तार पर कौन लगाना चाह रहा ब्रेक ? अब आंध्र में वंदे भारत एक्सप्रेस पर हमला
Share:

नई दिल्ली: कुछ असामाजिक तत्वों से भारत की तरक्की बर्दाश्त नहीं हो रही है. इसलिए वे, भारत की तेज रफ़्तार को रोकने के लिए तमाम प्रयास कर रहे हैं. वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन पर लगातार हो रही पत्थरबाज़ी यही संकेत करती है. इसका ताजा मामला आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम में देखने को मिला है. वाल्टेयर डिवीजन रेलवे ने बताया है कि, कुछअराजकतत्वों ने ट्रेन पर पथराव कर दिया, जिससे C-8 कोच की खिड़की का कांच टूट गया है. इस ट्रेन को सुबह 5:45 बजे रवाना होता था, मगर पथराव के कारण अब यह 9:45 बजे रवाना की जाएगी. बता दें कि, इससे पहले जनवरी में कांचरापलेम के पास ट्रेन पर मेंटेनेंस के दौरान पथराव किया गया था, जिससे उसके एक कोच का शीशा टूट गया था. यह ट्रेन सिकंदराबाद से विशाखापट्टनम के बीच चलती है और वारंगल, खम्माम, विजयवाड़ा और राजमुंद्री में ठहरती है. 

बता दें कि, आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में 11 जनवरी को भी वंदे भारत ट्रेन पर पथराव हुआ था. पीएम नरेंद्र मोदी 19 जनवरी को इस ट्रेन को हरी झंडी दिखाकर रवाना करने वाले थे. लेकिन, कुछ असामाजिक तत्वों ने वंदे भारत ट्रेन पर पथराव कर दिया था, जिससे ट्रेन के 2 कोच की खिड़कियों के कांच टूट गए थे. ट्रेन जब ट्रायल रन पूरा करने के बाद विशाखापट्टनम रेलवे स्टेशन से मरीपालेम के कोच मेंटेनेंस सेंटर जा रही थी, तभी यह पत्थरबाज़ी हुई थी.

बता दें कि, मौजूदा वक़्त में कुल 11 वंदे भारत ट्रेनें पटरियों पर दौड़ रही हैं. जिनमें वाराणसी से नई दिल्ली, मैसूर से चेन्नई,  मुंबई से गांधीनगर, विशाखापट्टनम से सिकंदराबाद, न्यू जलपाईगुड़ी से हावड़ा, नई दिल्ली से अंदौरा, माता वैष्णो देवी कटरा से नई दिल्ली, सोलापुर से मुंबई, शिरडी से मुंबई और बिलासपुर से नागपुर के मध्य चलने वाली वंदे भारत ट्रेनें शामिल हैं.

राहुल गांधी को 'बचकाना' बताने पर आगबबूला हुई कांग्रेस ! नबी आज़ाद को कहा 'गुलाम'

इस वजह से मनाया जाता है इंटरनेशनल स्पोर्ट्स डे

हनुमान जन्मोत्सव को लेकर केंद्र ने सभी राज्यों को जारी की ये खास एडवाइजरी

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -