लॉकडाउन लगा तो शराब की तस्करी करने लगा इंजिनियर, हुआ गिरफ्तार

पटना: बिहार के पटना-गया एसएच-1 पर सोहागी मोड़ पर बुधवार की शाम रांची से पटना लौट रही एक यात्री AC बस से तीन लाख की अंग्रेजी शराब बरामद हुई है। पुलिस को सड़क पर खड़े देखकर बस लगाकर ड्राइवर समेत दो लोग मौके से भाग निकले, लेकिन तीन लोगों को किसी तरह पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। 

इस संबंध में उत्पाद विभाग के द्वारा गौरीचक थाने में FIR दर्ज कराई गई है। SHO लालमुनि दुबे ने बताया कि मामले में FIR दर्ज कर ली गई है, जिसमें जहानाबाद का रहने वाला इंजिनियर मुकेश, गोपालपुर थाना क्षेत्र का श्रवण और हरनौत का रहने वाला बस के खलासी रौशन को अरेस्ट कर जेल भेज दिया गया।  पुलिस को सूचना मिली थी कि, बस से शराब को रांची से गया के रास्ते पटना बस स्टैंड पहुँचाया जाता है और वहां से नामचीन लोगों को इसकी डिलीवरी दी जाती है। इस इनपुट पर उत्पाद विभाग की विशेष टीम द्वारा गौरीचक पुलिस के सहयोग से बस को सोहागी मोड़ के करीब वाहन चेकिंग लगाकर सड़क अवरुद्ध कर रोका गया, जिसमें 20-30 मुसाफिर भी रांची से पटना आ रहे थे। 

जब बस की चेकिंग की गई तो डिक्की में तहखाना बनाकर शराब की कीमती 250 बोतलें मिली। पुलिस ने बस को जब्त कर लिया है और सभी यात्रियों को सुरक्षित घर पहुंचा दिया।  तीनों गिरफ्तार तस्कर से जब पुलिस ने पूछताछ की तो पता चला कि एक इंजीनियर है और वह ओडिशा में एक कंपनी में नौकरी करता है। लेकिन लॉकडाउन लगने के बाद वह बिहार आकर अवैध शराब बेचने का काम शुरू कर दिया।

सावधान! भूलकर भी न करें इन Apps को डाउनलोड, वरना खाली हो जाएगा आपका अकाउंट

केरल में CPIM नेता की चाकुओं से गोदकर हत्या, कुछ दिन पहले हुआ था RSS कार्यकर्ता का क़त्ल

'खाने में पीरियड्स का खून मिलाकर खिलाती है पत्नी..', पति ने पुलिस में दर्ज कराई शिकायत

 

Most Popular

- Sponsored Advert -