क्या होता है जीरो फेस्टिवल ? देश-विदेश से लोग इसे देखने आते हैं अरुणाचल

ईटानगर: इन दिनों अरुणाचल प्रदेश में एक फेस्टिवल शुरू होता है, जिसके चलते महिलाएं खुद को यहां आने से रोक ही नहीं पाती हैं। अरुणाचल प्रदेश की बेहद ही खूबसूरत जीरो घाटी में ये फेस्टिवल होता है और इसलिए इस फेस्टिवल को जीरो फेस्टिवल के नाम से जाना जाता है। इंडिया के नॉर्थ ईस्ट में स्थित बेहद खूबसूरत राज्य अरुणाचल प्रदेश स्थित जीरो घाटी ना केवल, अपनी प्राकृतिक खूबसूरती के लिए मशहूर बल्कि एक और चीज है जो प्रति वर्ष बड़ी तादाद में टूरिस्ट्स को अपनी तरफ आकर्षित करती है। खासतौर पर उन्हें जिन्हें म्यूजिक पसंद आता है। 

अरुणाचल प्रदेश की जीरो घाटी में सितंबर माह के आसपास एक म्यूजिक फेस्टिवल होता है, जिसमें शामिल होने के लिए कई हजारों लोग आते हैं। इस फेस्टिवल का नाम ‘जीरो म्यूजिक फेस्टिवल’ है। यदि आप उन महिलाओं में शामिल हैं, जिन्हें म्यूजिक बहुत अधिक पसंद है तो आपको इस फेस्टिवल में जरूर जाना चाहिए। ये म्यूजिक फेस्टिवल 29 सितंबर से शुरू होकर 2 अक्टूबर तक चलेगा। जीरो में प्रति वर्ष भारत का सबसे बड़ा और सबसे कूल आउटडोर म्यूजिक फेस्टिवल का आयोजन किया जाता है।

यह फेस्टिवल प्रति वर्ष सितंबर माह में होता है और 4 दिनों तक चलता है। इस म्यूजिकल फेस्टिवल में ना केवल अरुणाचल प्रदेश और नॉर्थ ईस्ट के बेहतरीन म्यूजिक बैंड्स शामिल होते हैं, बल्कि पूरे देश के म्यूजिकल बैंड्स और आर्टिस्ट्स अपनी कला का प्रदर्शन करने के लिए इस फेस्ट का हिस्सा बनते हैं। इस म्यूजिक फेस्ट में सैलानी और आम लोग, जैज से लेकर पॉप, फंक, फ्यूजन, हिप-हॉप, ग्रंज जैसी अलग-अलग शैली और विधा का म्यूजिक का आनंद लेते हैं। 

देश को मिला नया CDS, जानिए कौन हैं लेफ्टिनेंट जनरल अनिल चौहान ?

जम्मू कश्मीर में 8 घंटे के अंदर दो धमाके, क्या PFI बैन से बौखला गए आतंकी ?

PFI पर बैन को गलत बताकर अब अपने बयान से पलटे जदयू नेता, जानिए क्या कहा?

 

 

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -