तृणमूल कांग्रेस को वोट नहीं देने पर महिला को जूते का हार

कोलकाता : वेस्ट बंगाल में दबंगो के कहर की एक बड़ी खबर आ रही है जहा सत्तारूढ तृणमूल कांग्रेस को पंचायत चुनाव में वोट नहीं देने और बूथ लूट का विरोध करने पर सार्वजनिक रूप से एक महिला को 300 बार कान पकड़कर उठक-बैठक लगवाने का आरोप कार्यकर्ताओं पर है. तृणमूल कार्यकर्ताओं पर  आरोप है कि महिला को गले में जूते-चप्पल की माला पहनाकर पूरे गांव में घुमाया गया है. मामला जंगलमहल के मेदिनीपुर सदर ब्लॉक संख्या चार के कंकावती क्षेत्र के बागदुबी गांव का है.

कविता दास के साथ हुई इस निंदनीय घटना पर तृणमूल ने फ़िलहाल चुप्पी साध रखी है. सूत्रों के अनुसार उक्त महिला का सिर्फ इतना दोष था कि उसने पंचायत चुनाव में तृणमूल को वोट नहीं दिया. साथ ही बूथ कैप्चरिंग रोकने के लिए चट्टान की तरह खड़ी हो गई थी.  शुक्रवार को उसे जूते-चप्पल की माला पहनाकर पूरे गांव में घुमाया गया.

इसके बाद तृणमूल कार्यालय में भीड़ के बीच उसे गिनती कर 300 बार उठक-बैठक कराई गई. इस घटना पर तृणमूल के स्थानीय नेताओं के डर से कविता दास के समर्थन में कोई कुछ नहीं बोल रहा. हालांकि तृणमूल ने सभी घटनाओं से इनकार किया है.

पश्चिम बंगाल पंचायत चुनाव में टीएमसी का दबदबा

पश्चिम बंगाल हिंसा: माकपा ने ममता सरकार का पुतला फूंका

पश्चिम बंगाल: पंचायत चुनाव की मतगणना जारी

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -