7 दिसंबर को है विनायकी चतुर्थी, इन मन्त्रों और स्तुति से करें बप्पा को खुश

आप सभी को बता दें कि प्रतिमाह शुक्ल पक्ष में आने वाली चतुर्थी को विनायकी चतुर्थी के नाम से जाना जाता है। इस महीने विनायकी चतुर्थी 7 दिसंबर को है। वहीं धार्मिक शास्त्रों के अनुसार शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को विनायकी तथा कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को संकष्टी गणेश चतुर्थी कहते हैं। आप सभी को बता दें कि इस दिन विधि-विधान से श्री गणेश का पूजन किया जाता है और ऐसा करने से वह अत्‍यंत प्रसन होते हैं। इसी के साथ श्री गणेश के कुछ मंत्र है और इन मन्त्रों से जीवन की हर समस्या का समाधान किया जा सकता है। आज हम आपको बताने जा रहे हैं वह मंत्र जो आप विनायकी चतुर्थी के दिन पढ़ सकते हैं।

खास मंत्र (Ganesha Mantra)-


1. 'ॐ वक्रतुण्डाय हुं।'

2.ॐ गं गणपतये नम:।'

3. 'ॐ मेघोत्काय स्वाहा।'

4. 'ॐ श्रीं गं सौम्याय गणपतये वर वरद सर्वजनं में वशमानय स्वाहा'

5. 'ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं क्लीं क्लीं गण‍पति वर वरद सर्व लोकं में वशमानय स्वाहा।'

6. 'ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं ग्लौं गं गणपतये वर वरद सर्वजनं मे वशमानय स्वाहा।'

7. 'ॐ नमो हेरम्ब मद मोहित मम् संकटान निवारय-निवारय स्वाहा।'
8. 'ॐ गं हस्ति पिशाचि लिखे स्वाहा।'

गणेश स्तुति-

वक्रतुंड महाकाय सूर्यकोटिसमप्रभ।

निर्विघ्नं कुरु मे देव सर्वकार्येषु सर्वदा ॥

गजाननं भूतगणादिसेवितं कपित्थजंबूफलचारुभक्षणम्‌ ।
उमासुतं शोकविनाशकारकं नमामि विघ्नेश्वरपादपङ्कजम्‌ ॥

सुमुखश्चैकदंतश्च कपिलो गजकर्णकः ।

लम्बोदरश्च विकटो विघ्ननाशो गणाधिपः ।

धूम्रकेतुर्गणाध्यक्षो भालचन्द्रो गजाननः ।

द्वादशैतानि नामानि यः पठेच्छृणुयादपि ।

विद्यारंभे विवाहे च प्रवेशे निर्गमे तथा ।

संग्रामे संकटे चैव विघ्नस्तस्य न जायते ॥

शुक्लाम्बरधरं देवं शशिवर्णं चतुर्भुजम् ।

प्रसन्नवदनं ध्यायेत् सर्वविघ्नोपशान्तये ॥
उमासुतं शोकविनाशकारकं नमामि विघ्नेश्वरपादपङ्कजम्‌ ॥

सुमुखश्चैकदंतश्च कपिलो गजकर्णकः ।

लम्बोदरश्च विकटो विघ्ननाशो गणाधिपः ।

धूम्रकेतुर्गणाध्यक्षो भालचन्द्रो गजाननः ।

द्वादशैतानि नामानि यः पठेच्छृणुयादपि ।

विद्यारंभे विवाहे च प्रवेशे निर्गमे तथा ।

संग्रामे संकटे चैव विघ्नस्तस्य न जायते ॥

शुक्लाम्बरधरं देवं शशिवर्णं चतुर्भुजम् ।

प्रसन्नवदनं ध्यायेत् सर्वविघ्नोपशान्तये ॥
अनेकदंतं भक्तानां एकदन्तं उपास्महे ॥

गणपति बाप्पा की आरती के साथ करें अपने दिन की शुरुआत

आगरा: बुजुर्ग ने जिलाधिकारी को दी करोड़ों की जायदाद, बेटे नहीं रखते ख्याल

गणेश जी के इन चमत्कारी मंत्रों के जप से दूर होंगे सभी कष्ट

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -