कबड्डी खिलाड़ियों का खाना शौचालय में रखे जाने पर वायरल हुआ वीडियो, और फिर...
कबड्डी खिलाड़ियों का खाना शौचालय में रखे जाने पर वायरल हुआ वीडियो, और फिर...
Share:

कबड्डी खिलाड़ियों का खाना शौचालय में रखे जाने के सोशल मीडिया पर ‘वायरल' हुए वीडियो पर संज्ञान लेते हुए यूपी गवर्नमेंट ने ढिलाई बरतने के इल्जाम में जिला खेल अधिकारी को निलंबित कर डाला। अपर मुख्य सचिव (खेल) नवनीत सहगल ने इस बारें में कहा है कि सहारनपुर के जिला खेल अधिकारी अनिमेष सक्सेना को सोमवार को निलंबित किया जा चुका है। सहगल ने इस बारें के कहा है कि, 'जनपद के क्षेत्रीय क्रीडा अधिकारी (आरएसओ) अनिमेष सक्सेना को तत्काल प्रभाव से निलंबित भी किया गया। पूरे प्रकरण की कार्रवाई जिलाधिकारी सहारनपुर को सौंपी गई है।' उन्‍होंने बताया कि खाना बनाने व खिलाड़ियों को उपलब्ध कराने वाले ठेकेदार को ‘ब्लैकलिस्ट' करते हुए भविष्य में काम न देने की सख्त चेतावनी भी दी जा चुकी है। 

साथ ही इलाके क्रीडा अधिकारी के अधीनस्थ इस कार्यक्रम में खाना परोसने का कार्य करने वाले विभागीय कर्मियों को विशेष प्रतिकूल प्रविष्ट देने के निर्देश निदेशक खेल को दिए जा चुके है। जिसके साथ साथ अतिरिक्त उन्होंने प्रदेश के सभी क्षेत्रीय क्रीडा अधिकारियों को सख्त चेतावनी भी दी गई है कि खिलाड़ियों को सुविधा देने में किसी भी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नहीं होने वाली। सहारनपुर के डॉ भीमराव अंबेडकर स्टेडियम में 16 से 19 सितंबर तक लड़कियों की सब-जूनियर कबड्डी प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया था, इसमें राज्य के 16 संभागों की 300 से अधिक लड़कियों ने हिस्सा  लिया था। 

 

सहारनपुर के जिलाधिकारी अखिलेश सिंह ने मंगलवार को इस बारें में बोला है कि अपर जिला मजिस्ट्रेट (वित्त और राजस्व) रजनीश कुमार मिश्रा को हादसे की जांच करने के लिए कहा गया है और वह तीन दिन में अपनी रिपोर्ट सौंपेंगे। सिंह ने बताया है, ‘खिलाड़ियों को जो दोपहर का खाना परोसा गया वह अधपका था और खिलाड़ियों को पर्याप्त खाना नहीं मिल पाया। इसके अलावा चावल और पूड़़ी को शौचालय में रखा गया था और उससे बदबू आ रही थी।' 

अपनी बात को जारी रखते हुए उन्होंने आगे कहा है कि, ‘यह भी पता चला कि खाना स्विमिंग पूल परिसर में पकाया गया था और 300 से ज्यादा लोगों के लिए भोजन तैयार करने के लिए केवल दो रसोइये लगे हुए थे। जिलाधिकारी ने कहा है कि भोजन तैयार करने के बाद उसे शौचालय में रखा गया था और यहीं से खिलाड़ियों ने खाना लिया। सिंह ने जांच दल को खिलाड़ियों से बात करने, वीडियो क्लिपिंग प्राप्त करने और रिपोर्ट जमा करने कजा निर्देश भी जारी कर दिया है। उन्होंने बोला है कि, ‘जिला खेल अधिकारी ने इस राज्य स्तरीय टूर्नामेंट के बारे में प्रशासन को कोई सूचना नहीं दी थी। अगर प्रशासन को आयोजन की सूचना दी जाती तो वह अपने स्तर पर प्रतियोगिता पर विशेष ध्यान देता।' 

राष्ट्रीय खेलों में मजबूत वापसी करना चाहती है मनिका बत्रा

ड्रीम इलेवन से करोड़पति बना बिहार का ये लड़का, जानिए कैसे?

‘हंग थिंह’ दोस्ताना फुटबॉल टूर्नामेंट के लिए टीम इंडिया देगी अपना बेस्ट

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
Most Popular
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -