रेप के बाद जन्में बच्चे की परवरिश करना चाहती है पीड़िता, जानिए क्या है मामला

Sep 23 2015 03:06 PM
रेप के बाद जन्में बच्चे की परवरिश करना चाहती है पीड़िता, जानिए क्या है मामला

अहमदाबाद : सामूहिक बलात्कार पीड़ित के गर्भवती होने और फिर एक बच्चे को जन्म देने के 2 महीने बाद पीड़िता ने अपने बच्चे की परवरिश की इजाजत मांगी है. पहले जन्म देने के बाद महिला ने इस बच्चे को छोड़ दिया था, लेकिन अब वह बच्चे को अपने पास रखना चाहती है. महिला का कहना है उसने अपने पति को इसके लिए राजी कर लिया है और अब वो अपने बेटे के लिए समाज और सरकार से लड़ने के लिए तैयार हैं. पीड़िता ने गर्भवती होने पर हाईकोर्ट से अबॉर्शन की इजाजत भी मांगी थी लेकिन कोर्ट ने इसकी इजाजत नहीं दी थी.

क्या है मामला?

गुजरात के सूरत मे 24 वर्षीय पीड़ित का कुछ बदमाशों ने 8 महीने पहले अपहरण कर लिया था और इसके बाद उसके साथ महीनों तक सामूहिक बलात्कार किया गया. इससे महिला गर्भवती हो गई. इसके बाद वो बड़ी मुश्किल से बदमाशों के चंगुल से भागकर अपने परिवार के पार पहुची तो उस वक्त वह 20 हफ्ते की गर्भवती है. इसके बाद पीड़िता ने हाईकोर्ट से अबॉर्शन की इजाजत मांगी, लेकिन कोर्ट ने इजाजत देने से इनकार कर दिया. इसके बाद 8 जुलाई को पीड़िता ने एक बच्चे को जन्म दिया.

अब पीड़िता का कहना है कि उसे किसी भी हाल मे अपना बच्चा चाहिए. पहले उसने 'अपनी मां और समाज के दबाव मे आकार अबॉर्शन की इजाजत मांगी थी. क्योकि समाज के ने मुझे चेतावनी दी थी कि यदि मैं बच्चे को जन्म देती हूं तो वो मुझे समाज से निकाल देंगे. लेकिन अब उसे किसी की परवाह नहीं है.'

पीड़िता का कहना है कि "बाल आश्रम में उसे बच्चे से मिलने नहीं दिया जा रहा है. भले ही यह बच्चा रेप की वजह से जन्मा है, लेकिन है तो मेरा ही. जैसे मैं अपने और दो बच्चों को प्यार करती हूं, वैसे ही मैं इसे भी अपनाऊंगी.'' बता दें कि बच्चे से न मिल पाने से परेशान होकर पीड़ित महिला 2 बार सुसाइड की कोशिश भी कर चुकी है.