इन 6 कार्यों को करते वक़्त रखे दिशाओं का ध्यान, जल्द मिलेगी सफलता

वैदिक भारतीय वास्तु शास्त्र के मुताबिक, प्रत्येक दिशा की अपनी खास अहमियत होती है। यदि कोई शख्स अपने घर, दुकान या ऑफिस में वास्तु शास्त्र में बताए गए दिशाओं के अनुसार, कार्य करता है तो उस शख्स को अपने कार्य में कामयाबी प्राप्त होती है तथा धन लाभ भी होता है। आइए जानते हैं कि वास्तु एवं ज्योतिष का ध्यान रखते हुए अपने लिए सही दिशा का निर्धारण कैसे किया जाए जिससे दुकान, कैरियर तथा धन के मामले में लाभ प्राप्त हो सके।

1. वास्तुशास्त्र के अनुसार, उत्तर की दिशा को कामयाबी की दिशा माना जाता है। इसलिए किसी भी नए काम को आरम्भ करते वक़्त शख्स को अपना मुंह उत्तर दिशा की ओर रखना चाहिए।

2. घर में पूजा घर को सकारात्मक ऊर्जा का केंद्र बिंदु माना जाता है। इसलिए पूजा करते वक़्त शख्स को अपना मुंह पश्चिम दिशा की ओर रखना चाहिए। तथा यदि ऐसा संभव न हो तो पूर्व दिशा की ओर मुंह करके भी आराधना किया जा सकता है।

3. वास्तु शास्त्र के मुताबिक, पूर्व की दिशा बच्चों की पढ़ाई के लिए शुभ होती है। ऐसा माना जाता है कि जो बच्चे पूर्व दिशा की ओर मुंह करके पढ़ाई करते हैं उन्हें कामयाबी अवश्य प्राप्त होती है।

4. वास्तु शास्त्र के अनुसार, दुकान के मालिक या दफ्तर के बॉस को अपने दुकान अथवा दफ्तर में हमेशा उत्तर दिशा की ओर मुंह करके बैठना चाहिए। ऐसा करने से कार्य में कामयाबी प्राप्त होती है।

5. घर के किचेन में खाना बनाते वक़्त भी दिशा का ध्यान रखना चाहिए। वास्तु के अनुसार, किचेन में खाना बनाने वाले का मुंह पूर्व अथवा उत्तर-पूर्व की ओर रहना चाहिए।

6. खाना खाते वक़्त भी दिशा का ध्यान रखना चाहिए। ऐसा करने से भोजन करने वाले को भोजन की पूरी ऊर्जा प्राप्त होती है। वास्तु शास्त्र के अनुसार, खाना खाते वक़्त शख्स का मुंह पूर्व या फिर उत्तर दिशा की ओर होना चाहिए।

चाणक्य की ये बातें दिलाएगी आपको जॉब, करियर और बिजनेस में कामयाबी

अगर उच्च शिक्षा में पाना चाहते हैं कामयाबी, तो जरूर अपनाएं ये सुझाव

सूर्यास्त के बाद भूलकर भी न दे पड़ोसियों को ये पांच चीजें, नहीं तो हो जाएंगे बर्बाद

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -