योगीराज में गन्ना किसान नाराज़, खड़ी फसल को लगा रहे आग

योगीराज में गन्ना किसान नाराज़, खड़ी फसल को लगा रहे आग

बलरामपुर: देश के प्रत्येक राजनीतिक मंच से किसानों के बारे में बात न हो ऐसा शायद ही कभी होता है। किन्तु जमीनी हकीकत कुछ और ही बयां कर रही है। मिल द्वारा किसानों को गन्ने का बकाया पैसा कई महीनों से नहीं चुकाया जा रहा है, जिससे किसानों के घरों में रोटी का संकट पैदा हो गया है। 

मंगलवार को डॉलर के मुकाबले मजबूती के साथ खुला रुपया

इससे हताश व परेशान किसान अपनी खड़ी फसल को आग लगा रहे है। बजाज शुगर मिल द्वारा गन्ना किसान का पैसा न चुके जाने से किसानों ने एक महीने से 2 क्रय केंद्रों की गन्ने की सप्लाई ठप्प कर आंदोलन पर उतर आए हैं। सत्ताधारी दल का एक भी नेता इन गन्ना किसानों की सुध लेने के लिए नहीं पहुंचा है। बलरामपुर जिले की बजाज चीनी मिल के बन्द पड़े हुए विजय नगर व बेनी नगर गन्ना क्रय केंद्रों पर गन्ना किसानों ने चीनी मिल और सरकार के विरोध में जमकर नारेबाजी की और प्रदर्शन किया। 

सप्ताह के दूसरे दिन भी गिरावट के साथ खुला बाजार

किसानों का आरोप है कि बजाज शुगर मिल ने लगभग 2 करोड़ रुपये की गन्ना ख़रीदा है, किन्तु इस सत्र में गन्ने का एक पैसा अभी तक नहीं चुकाया गया है। किसानों का कहना है कि जब तक गन्ने का पैसा नहीं चुकाया जाता है तब तक गन्ने की सप्लाई नहीं होगी। चीनी मिल की इस मनमानी के चलते लगभग 45 गांव के किसान परेशान है और अपनी खड़ी फसलों को आग के हवाले कर रहे हैं। 

खबरें और भी:-

गुवाहाटी में शुरू होने जा रही है सीनियर राष्ट्रीय बैडमिंटन चैंपियनशिप, ऐसा है कार्यक्रम

वेतन 70 हजार रु, बेरोजगार यहां करें नौकरी के लिए आवेदन

International Condom Day : खूब छाया सनी लियॉन का ये कंडोम एड