हनुमानजी की जाति को लेकर विवाद अब भी जारी, अब योगी के मंत्री ने उन्हें बताया खिलाड़ी

Dec 23 2018 11:56 AM
हनुमानजी की जाति को लेकर विवाद अब भी जारी, अब योगी के मंत्री ने उन्हें बताया खिलाड़ी

नई दिल्ली: श्री राम भक्त हनुमानजी पर बयानबाजी अभी भी खत्म नहीं हो रही है, हर दिन कोई न कोई नेता हनुमान पर बयान दे रहे हैं. इस बीच यूपी में योगी आदित्यनाथ के मंत्री और पूर्व क्रिकेटर चेतन चौहान ने हनुमानजी पर बयान देते हुए कहा है कि भगवान की कोई जाति नहीं होती है .उन्होंने कहा कि मैं हनुमान जी को जाति में नहीं बांधना चाहता, उन्होंने हनुमान को खिलाड़ी बताया है.

किसान दिवस : दाने-दाने को मोहताज देश का अन्नदाता, जानिए इस दिन की कुछ दिलचस्प बातें...

योगी सरकार में मंत्री चेतन चौहान चौहान ने कहा है, 'हनुमान जी कुश्ती लड़ते थे, खिलाड़ी भी थे, देश में जितने भी पहलवान हैं, हनुमानजी की पूजा करते हैं, मैं उनको वही मानता हूं, वे हमारे ईष्ट हैं और भगवान की कोई जाति नहीं होती है, मैं उनको जाति के बंधन में नहीं बांधना चाहता.' हालांकि, पूर्व क्रिकेटर का हनुमान पर दिया यह बयान अन्य नेताओं की तुलना में थोड़ा समझदारी भरा है, जो भगवान को किसी जाति या धर्म से नहीं जोड़ रहे हैं. उन्होंने कहा कि हनुमान जी देवता, भगवान व महापुरुष हैं और उनकी कोई जाति नहीं होती.

बीजेपी ने राजीव प्रताप रूडी को किया राष्ट्रीय प्रवक्ता नियुक्त

आपको बता दें कि सबसे पहले योगी आदित्यनाथ ने एक चुनावी रैली में भगवान हनुमान को दलित बताया था, जिसके बाद नेताओं के निरंतर उलजलूल बयान देखने को मिल रहे हैं. हनुमान पर ताजा विवादित बयान देते हुए एक नेता ने कहा था कि हनुमानजी का जन्म गोंडवाना प्रदेश में हुआ था, उस प्रदेश में गोंड जाति का शासन हुआ करता था, इसलिए हनुमान जी गोंड थे.

खबरें और भी:-

नेशनल हेराल्ड : हाईकोर्ट के आदेश के खिलाफ अपील की तैयारी में कांग्रेस

'मैन इन ब्लैक इंटरनेशनल' के ट्रेलर को दो दिन में मिले इतने व्यूज

यहां 61 हजार रु सैलरी, ये युवा ही करें आवेदन