1 जून को होगा, मुखियाजी की प्रतिमा का अनावरण

पटना: बिहार के भोजपुर जिले में नक्सलियों के खिलाफ रणवीर सेना की स्थापना करने वाले स्वर्गीय ब्रह्मेश्वर सिंह उर्फ मुखियाजी की आदमकद प्रतिमा का अनावरण होने वाला है.  दिवंगत मुखियाजी के स्मारक सह मंदिर का निर्माण कार्य चार कट्ठा जमीन पर दिन-रात चल रहा है. प्राण-प्रतिष्ठा सहित उनकी प्रतिमा का अनावरण एक भव्य समारोह के बीच उनकी जन्मस्थली खोपरी गांव में किया जाएगा, जिसमे कई राजनीतिक और सामाजिक हस्तियों के शामिल होने की उम्मीद जताई जा रही है.

यह समारोह 1 जून को रखा गया है, क्योंकि रणवीर सेना और मुखियाजी के लिए दिल में प्रेम का भाव रखने वाले जमात के लोग 1 जून को शहादत दिवस के रूप में पिछले 6 साल से मना रहे हैं क्योंकि साल 2012 की यह वही मनहूस तारीख है जिस दिन किसी ने बड़ी बेरहमी से 67 वर्षीय ब्रह्मेश्वर सिंह की आरा शहर में निर्मम हत्या कर दी थी. मुखियाजी की हत्या करने वाले आरोपी अभी भी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं.

गठन के अध्यक्ष और ब्रह्मेश्वर सिंह के पुत्र इंदु भूषण सिंह ने बताया कि 'संगठन की ओर से लालू यादव से लेकर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह तक को निमंत्रण पत्र उचित माध्यम से भेज दिया गया है. यहां तक की बिहार के सीएम नीतीश कुमार को भी आमंत्रण पत्र भेजा गया है.' कार्यक्रम को सफल बनाने में सक्रिय खोपिरा के ग्रामीणों को पक्का भरोसा है कि 'कोई आए या न आए माननीय गिरिराज सिंह तो अवश्य ही पधारेंगे. 

पेट्रोलियम उत्पादों को जीएसटी में लाने पर ज्यादा असर नहीं होगा - सुशील मोदी

बच्चों की तरह बात करते हैं राहुल गाँधी- गडकरी

मायावती ने अपने भाई को उपाध्यक्ष पद से हटाया

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -