उज्जैन में कोरोना के दो और नए मामले मिले, संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 237 पंहुचा

मध्य प्रदेश के कई जिलों में कोरोना ने पैर पसार लिए है. वहीं, उज्जैन में भी संक्रमण तेजी से फैल रहा है.  यहां रविवार काे दाे और काेराेना संक्रमित सामने आए है. इसके साथ ही संक्रमिताें का आंकड़ा बढ़कर 237 हाे गया. वहीं, मृतकों की संख्या 45 हाे गई है. इसके पहले शनिवार को 16 और कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले थे. इनमें दो की मौत हो गई है. आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज में ड्यूटी दे रहे 36 साल के डॉक्टर को भी कोरोना संक्रमण मिला है. उन्हें मरीजों से यह संक्रमण हुआ. डॉक्टर का घर आगर रोड पर शिवांश पैराडाइज सिटी में है. प्रशासन ने उस क्षेत्र को कंटेनमेंट एरिया बना दिया है. लगातार कोरोना मरीजों के सामने आने के बाद अब रविवार सुबह से पूरे शहर का सर्वे शुरू किया गया. इसके लिए शनिवार को सर्वे टीम को नानाखेड़ा स्टेडियम में प्रशिक्षण दिया था.

इस बारें में कलेक्टर आशीष सिंह ने बताया कि इससे घबराने की जरूरत नहीं है, मरीज सामने आएंगे तो उनका इलाज होगा. संक्रमण और ज्यादा फैलने से रुकेगा. सर्वे होने से बीमार मरीज सामने आएंगे. इससे अगले एक सप्ताह में संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 320 पार होने के आसार हैं. इधर, राहत इस बात की है कि 11 मरीज और ठीक होकर घट लौट गए हैं. जिनकी मौत हुई, उनमें अब्दालपुरा निवासी 62 वर्षीय पुरुष और केडी गेट निवासी 43 वर्षीय महिला शामिल हैं. जिले में अब तक 45 मरीजों की मौत हो चुकी है.

बता दें की मध्यप्रदेश के सबसे ज्यादा संक्रमित सदस्यों वाले परिवार ने कोरोना के खिलाफ आधी जंग जीत ली है.बड़नगर के वेद परिवार के 24 सदस्य कोरोना पॉजिटिव पाए थेइनमें से चार की मौत हो गई हैशनिवार को दो सदस्य ठीक होकर घर लौटेइससे पहले 7 सदस्य डिस्चार्ज हो चुके हैंइनमें 20 माह का बच्चा भी हैबाकी 11 सदस्य इंदौर के अरबिंदो मेडिकल कॉलेज में भर्ती है, जिनके स्वास्थ्य में लगातार सुधार हो रहा हैयहां उन्हें 10 दिन हो गए हैं.

OMG! कोरोना वायरस से हुई जापान के सूमो की मौत

इस क्षेत्र में खतरों से खाली नहीं है विमानों को उड़ाना, जानें क्या है वजह

इंग्लैंड को पुर्तगाल ने इस वजह से मुंबई को दहेज के रूप में दिया था

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -