मोदी सरकार की कामयाबी, मुस्लिम महिलाओं की आज़ादी, राज्यसभा में भी पास हुआ तीन तलाक़ बिल

Jul 30 2019 07:42 PM
मोदी सरकार की कामयाबी, मुस्लिम महिलाओं की आज़ादी, राज्यसभा में भी पास हुआ तीन तलाक़ बिल

नई दिल्‍ली: देश के लिए आज ऐतिहासिक दिन है. मोदी सरकार ने मुस्लिम बहनों को रक्षाबंधन का तोहफा दिया है. तीन तलाक़ बिल राज्यसभा में भी पास हो गया है. बिल के पक्ष में 99 जबकि विपक्ष के खाते में 84 वोट आए, अब बिल को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के पास भेजा जाएगा. उनके साइन के बाद यह कानून का रूप ले लेगा. एनडीए के 16 सदस्यों ने बिल का बहिष्कार किया और वोटिंग में हिस्सा नहीं लिया. उधर, विपक्ष की ओर से एनसीपी, बसपा, आप के सदस्यों ने मतदान से बहिष्कार किया. कांग्रेस के 4 सदस्य किसी वजह से सदन में उपस्थित नहीं थे. वहीं भाजपा के दो सांसद सदन मे उपस्थित नहीं थे. 

 

इससे पहले, बिल को चयन समिति में भेजने का प्रस्ताव गिर गया था. तभी तय हो गया था कि यह बिल राज्यसभा में पारित हो जाएगा क्योंकि मतदान के दौरान संख्याबल यही रहने के आसार थे. थोड़ी देर बाद, बिल पारित हो गया. लोकसभा में पारित होने के बाद तीन तलाक बिल मंगलवार को राज्‍यसभा में पेश किया गया था. केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने दोपहर 12 बजे बिल सदन के पटल पर रखा और कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के एक फैसले में इस प्रथा को अवैध ठहराया गया लेकिन उसके बाद भी तीन तलाक की प्रथा जारी है. 

IT के छापों के बाद पहली बार सामने आए कुलदीप बिश्नोई, कही ये बात

मॉब लिंचिंग के लिए कानून बनाएगी राजस्थान सरकार, विधानसभा में पेश किया विधेयक

जेल में भड़की हिंसा में मारे गए 57 कैदी, 16 के सिर धड़ से अलग मिले