शारीरिक दूरी का पालन कर रही यह टैक्सी फर्म

भारत में इस समय कोरोनावायरस के मामले हर दिन बढ़ते जा रहे हैं और ऐसे में राज्य और केंद्र सरकार इस महामारी को रोकने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास कर रही हैं. भारत में कई निकायों और संस्थानों ने कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए कई प्रयास किए हैं. ऐसे ही समान केरला में एक प्राइवेट टैक्सी फर्म ने कैब में ड्राइवर सीट और पीछे वाले पैसेंजर सीट के बीच एक पारदर्शी विभाजन स्थापित करके उसी दृष्टिकोण का विकल्प चुना है. फर्म ने यह कदम कोरोनावायरस की रोकथाम के लिए उठाया है. टैक्सी फर्म ने एर्नाकुलम जिला प्रशासन से सुझाव प्राप्त करने के बाद यह पहल करने का फैसला किया है.

Vespa Elegante : इन आकर्षिक ​फीचर्स से होगी लैस

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि फर्म की कैबों को स्वदेश में आगमन उड़ानों और जहाजों द्वारा लौटने वाले लोगों के परिवहन के लिए तैनात किया गया है. ड्राइवर और यात्रियों के बीच एक पारदर्शी विभाजन की स्थापना सामाजिक गड़बड़ी को बनाए रखेगी और चालक को वायरस के संपर्क में आने से रोकेगी. विशेष रूप से विदेश से आ रहे भारतीयों के परिवहन के लिए इस तरह की कैब बनाई गई है क्योंकि विदेशों से आ रहे भारतीयों के चलते कैब ड्राइवरों के वायरस के संपर्क में आने की संभावना अधिक होती है.

इस स्टाइलिश बाइक की खरीदी पर कंपनी भरेगी 3 महीने की ईएमआई

इसके अलावा हाल ही में, हमने पश्चिम बंगाल से संभवत: एक ऐसा वीडियो देखा, जो इंटरनेट पर उभरा, जिसमें ई-रिक्शा चालक ने यात्रियों के बीच सामाजिक दूरी सुनिश्चित करने के लिए वाहन को डिब्बों में विभाजित किया है. यह वीडियो तेजी से वायरस हो गया है और इसे महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा से भी अटेंशन मिली है.

इस ऑटोमोबाइल कंपनी ने फिर से खोले डीलरशिप

आखिर कोरोना प्रकोप से कितनी प्रभावित होगी ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री

BS6 Hero Destini स्कूटर को ​खरीदने के लिए चुकाने पड़ेंगे अधिक दाम, जानें नया प्राइस

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -