ट्रम्प प्रशासन का बड़ा फैसला, अब सेना में भर्ती नहीं पाएंगे किन्नर

Apr 14 2019 03:57 PM
ट्रम्प प्रशासन का बड़ा फैसला, अब सेना में भर्ती नहीं पाएंगे किन्नर

वाशिंगटन: अमेरिका में किन्नरों को सेना में भर्ती होने से प्रतिबंधित करने वाली राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की नीति शुक्रवार से प्रभावी हो चुकी है. रक्षा मंत्रालय के एक अधिकारी ने यहां प्रेस वालों को जानकारी देते हुए बताया है कि नई नीति के तहत जेंडर डिस्फोरिया (लिंग पहचान में कठिनाई) की श्रेणी में आने वाले लोग सेना में शामिल नहीं हो पाएंगे. 

रक्षा मंत्रालय के अधिकारी ने कहा है कि हालांकि जेंडर डिस्फोरिया का उपचार करा रहे लोग सेना में अभी बने रह सकते हैं और नीति के प्रभावी होने से पहले जिन लोगों ने अपना लिंग बदल लिया है वे भी सेना में बने रहेंगे. रक्षा मंत्रालय के मुताबिक 10 लाख 30 हजार सैन्यकर्मियों में से नौ हजार सैनिक किन्नर हो सकते हैं. डेमोक्रेट सांसदों की प्रभाव वाली हाउस ऑफ आर्म्ड सर्विसेज कमिटी ने बताया है कि इस नीति के खिलाफ उनकी लड़ाई आगे भी जारी रहेगी.

उन्होंने कहा है कि इसके प्रभावी होने से देश की सेना के विश्वास को आघात पहुंचा है. बराक प्रशासन में साल 2016 में किन्नरों को स्पष्ट तौर पर सेना में शामिल होने का अधिकार प्रदान किया गया था. गौरतलब है कि अमेरिका के सर्वोच्च न्यायालय ने इस साल जनवरी में ट्रंप प्रशासन के इस फैसले को 5-4 से मंजूर कर लिया था. 

खबरें और भी:-

मेलबर्न : नाईट क्लब के बाहर हिंसक झड़प, अंधाधुंध चली गोलियां

पाकिस्तान की किताबों में नहीं है जालियांवाला बाग़ का जिक्र, जानिए क्या पढ़ते हैं बच्चे

अब ब्रिटेन में पान थूकने पर लगेगा इतना भारी जुर्माना