IT सेक्टर में अधिक वेतन तो मैन्युफैक्चरिंग में कम

Feb 16 2016 05:25 PM
IT सेक्टर में अधिक वेतन तो मैन्युफैक्चरिंग में कम

नई दिल्ली: भारत में मॉन्स्टर सैलरी इंडेक्स (एमएसआई) ने आज अपने एक बयान में कहा है कि भारत में आईटी क्षेत्र कि कंपनियों के कर्मचारियों को सर्वाधिक वेतन दिया जाता है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुतबिक खबर है कि आईटी क्षेत्र में अधिक वेतन तो वही इसके उलट मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में सबसे कम वेतन दिया जा रहा है. मॉन्स्टर सैलरी इंडेक्स (एमएसआई) ने आगे कहा है कि आईटी सेक्टर में एक घंटे की औसतन पगार 346.42 रुपए है तो वही मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर में 254.04 रुपए है।

इसके साथ ही अगर हम वेतन देने के मामले में गौर से देखे तो बीएफएसआई (बैंकिंग, फाइनेंस और इंश्योरेंस) क्षेत्र इस पर द्वितीय पायदान पर रहा है, इसमें घंटे की औसत पगार 300.23 रुपए है। मॉन्स्टर डॉट कॉम इंडिया के प्रबंध निदेशक संजय मोदी ने कहा, 'आईटी और बीएफएसआई देश में सबसे अधिक वेतन वाले क्षेत्रों में शुमार हैं, परन्तु यह देखकर आश्चर्य होता है कि इन दोनों ही क्षेत्रों में 50 फीसदी से ज्यादा कर्मचारी वेतन से बहुत कम संतुष्ट हैं।'

इसमें 'मेक इन इंडिया' अभियान के जरिए मैन्युफैक्चरिंग सेक्टर पर सरकार की ओर से अत्यधिक जोर देने के बावजूद यह सबसे कम वेतन देने वाला क्षेत्र है। इस क्षेत्र के कर्मचारियों को मुकम्मल घरेलू अर्थव्यवस्था के लिए औसत एक घंटे के वेतन से भी करीब 9 प्रतिशत कम पगार 279.7 रुपये मिलता है।