काबुल में फंसे भारतीय ने सुनाई दर्दभरी दास्तां, कहा- अब पता नहीं हमारा क्या होगा...

काबुल में फंसे भारतीय ने सुनाई दर्दभरी दास्तां, कहा- अब पता नहीं हमारा क्या होगा...
Share:

काबुल: अफगानिस्तान की राजधानी काबुल पर तालिबानी कब्जे के पश्चात् भारत समेत कई देशों के लोग वहां से निकलने के लिए उत्साहित हैं, मगर उन्हें कोई मार्ग दिखाई नहीं दे रहा है। क्योंकि कमर्शियल फ्लाइट्स फिलहाल बंद हैं। ऐसे में ये व्यक्ति किसी प्रकार छिपकर अपनी जान बचा रहे हैं। काबुल में फंसे एक भारतीय ने वीडियो संदेश में अपना दर्द बयां करके सरकार से शीघ्र से शीघ्र सहायता प्रदान कराने की गुहार लगाई है।  

प्राप्त रिपोर्ट के मुताबिक, गुरू नाइक उन सैकड़ों व्यक्तियों में सम्मिलित हैं, जो अफगानिस्तान से बाहर निकलना चाहते हैं। नाइक ने भारत सरकार से निवेदन किया है कि उन्हें और उनके जैसे अन्य भारतीयों को शीघ्र से शीघ्र बाहर निकाला जाए। अपने वीडियो मैसेज में उन्होंने कहा है, ‘मैं एक भारतीय नागरिक हूं तथा अफगानिस्तान में बुरी तरह फंस गया हूं। मैं बीते 6 सालों से काबुल में एक NGO के साथ काम कर रहा हूं। हमें नहीं पता था कि राजधानी में स्थिति इतनी जल्दी बदल जाएगी। हम सभी भारतीय दूतावास के साथ कांटेक्ट में हैं।

उन्होंने आगे कहा कि भारतीय दूतावास द्वारा जारी अलर्ट के मुताबिक, मैंने 16 अगस्त के लिए Kam Air एवं Air India की टिकट बुक कराई थी, किन्तु हवाई क्षेत्र बंद होने की वजह से दोनों उड़ानें निलंबित कर दी गईं हैं। मुझे समझ नहीं आ रहा है कि अब हम काबुल से बाहर कैसे निकलेंगे। अपनी पीड़ा बयां करते हुए नाइक ने आगे बताया, ‘अभी कोई भी फ्लाइट नहीं है, ऐसे में हमें नहीं पता कि हम कब और कैसे अपने वतन वापस लौट पाएंगे। 15 अगस्त की रात मैंने काबुल हवाईअड्डे के पास एक होटल में शरण ली, जिससे प्रातः बिना किसी संकट के हवाईअड्डे पहुंच सकूं, मगर अब फ्लाइट ही निलंबित कर दी गईं हैं’। 

मात्र एक 'कोरोना मरीज' मिला और प्रधानमंत्री ने पूरे देश में लगा दिया लॉकडाउन

Video: लाहौर में कट्टरपंथियों ने तोड़ी महाराजा रणजीत सिंह की प्रतिमा

'मैं इंतज़ार कर रही हूँ, तालिबान आए और हम जैसे लोगों को मार डाले'

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -