लक्ष्य की मजबूती ही हे सफलता का साधन

Sep 26 2015 06:07 AM
लक्ष्य की मजबूती ही हे सफलता का साधन

मानव जीवा मे लक्ष्य का होना बहुत जरूरी होता हे हमारे मन मे केवल दो ही भाव होते हे या तो हाँ या फिर न l व्यक्ति इसी को लेकर परेशान रहता हे कि यह कार्य करू या न करू यदि मन का जवाब रहा हाँ तो ये बहुत ही अच्छी बात है क्योंकि अधिकतर लोगों को उनके जीवन का उद्देश ही नहीं मालूम रहता कि हमें क्या करना चाहिए और बिना सोचे समझे किसी भी कार्य को करने मे जुट जाते हे यह हमारी गलत सोच हे कार्य को करने से पहले लक्ष्य का होना अतिआवश्यक होता है।

इसीलिए किसी ने कहा हे -

बिना बिचारे जो करे तो पाछे पछिताय।

बात बिगारी आपनी जग मे होत हांसाय।।

हमें हर कार्य को सोच बिचार करना चाहिए जिससे हम सफलता हासिल कर सके कोई भी कार्य छोटा बड़ा नहीं होता हैं हमें हर कार्य को लक्ष्य के साथ करना चाहिए लक्ष्य के माध्यम से ही हम कार्य को सिद्ध करने की हिम्मत रखते हैं। यदि एक विद्यार्धी का लक्ष्य हे कि मे परीक्षा मे अच्छे अंक लाऊँगा तो वह जरूर अपने लक्ष्य की प्राप्ति कर लेता है।

लक्ष्य का होना ज़रूरी हे क्यों :-  सही राह में आगे जानें के लिए जब हम अपने कदम घर से बाहर निकालते हे तब यह सोच लेते हे कि कहाँ जाना हे और क्या करना हे यह भी एक लक्ष्य का प्रतीक हे अगर आपको यह नहीं पता हे कि कहाँ जाना है और क्या करना हे तो क्या आप कर पायगें इधर -उधर भटकते रहेगें और आपका पूरा दिन व्यर्थ जायेगा।

इसलिए यदि जीवन में आपने लक्ष्य नहीं बनाये हैं तो आपकी ज़िन्दगी तो गुज़रेगी पर जब आप कभी पीछे मुड़ कर देखेंगे तो बहुत दुख होगा। आपको पछतावा होगा कि मेने यह क्या किया लक्ष्य ही एक ऐसा माध्यम हे जो व्यक्ति को एक सही दिशा दिलाता है. जानकारी देता हे कि उसे यह कार्य करना चाहिए या नहीं। यदि आपका जीवन लक्ष्य के साथ चल रहा हे तो आप सही ज़िंदगी व्यतीत करेगें और आगे के रास्ते भी साफ़ नजर आएगें। जीवन मे सफलता पाने के लिए उद्देश का होना अतिआवश्यक हे दुनिया मे कोई भी कार्य कठिन नही हे हर कार्य को करने की लगन व लक्ष्य होना चाहिये।