आज ही के दिन बिछा दी गयी थी हजारों अमेरिकी फौजियों की लाशें, आपके भी रोंगटे खड़े कर देगा इतिहास

वाशिंगटन: अमेरिका के हवाई द्वीप में जापान द्वारा किये गए पर्ल हार्बर पर हमले को 75 साल पूरे हो गए हैं। यह हमला 7 दिसंबर, 1941 यानी आज ही के दिन सेकंड वर्ल्ड वॉर के दौरान जापानी एयरफोर्स द्वारा चुपके से अमेरिका पर किया गया था। जिसमे देखते ही देखते अमेरिकी फौजियों की लाशें बिछ गयी थी। इस हमले में 2,500 अमेरिकी मारे गए थे। इसके साथ ही 18 नेवल शिप तबाह कर दिए गए थे। 

इस हमले के तहत जापान ने दो फेज में हमले को अंजाम दिया था। जिसमे 7 दिसंबर, 1941 की सुबह जापानी बॉम्बर्स ने पर्ल हार्बर स्थित यूएस नेवल बेस पर बिना चेतावनी कार्पेट हमला बोला। जापान ने इसके लिए फाइटर जेट्स, बॉम्बर्स और टारपीडो मिसाइल्स का इस्तेमाल किया था। इसके बाद इसी बमबारी के साथ जापान ने अमेरिका और ब्रिटेन के खिलाफ जंग का एलान कर दिया। जिसके बाद यह दिन इतिहास में दर्ज हो गया। वही अमेरिका के तत्कालीन राष्ट्रपति फ्रैंकलिन डी रूजवेल्ट ने 7 दिसंबर, 1941 को  कलंक का दिन बताया था।

जापान द्वारा किये गए इस पर्ल हार्बर हमले में अमेरिका के आठ में से छह जंगी जहाज, क्रूजर, डिस्ट्रॉयर समेत 200 से ज्यादा एयरक्राफ्ट्स के नष्ट होने के साथ 2,403 अमेरिकी सैनिक मारे गए थे। वही 1,178 सैनिक घायल हो गए थे। वही इस तबाही का अंजाम अमेरिका ने जापान को हिरोशिमा और नागासाकी पर 'एटम बम' अटैक के रूप में दिया।

विजया गाड्डे ने ट्रम्प को 'ट्विटर' से हटाया, Twitter Files खुलते ही उठने लगी गिरफ़्तारी की मांग

'मुझे पीएम मोदी पर पूरा भरोसा..', बाइडेन के बाद अब फ्रांस के राष्ट्रपति ने की तारीफ

जल्द भारत आएंगे 12 और चीते, नए बाड़े बनकर हुए तैयार

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -