2 महीने तक नासिर के घर में ठहरे थे आतंकी, फिर इफ्तारी ला रहे सेना के वाहन पर किया हमला, 5 जवान बलिदान

2 महीने तक नासिर के घर में ठहरे थे आतंकी, फिर इफ्तारी ला रहे सेना के वाहन पर किया हमला, 5 जवान बलिदान
Share:

श्रीनगर: केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के पुँछ सेक्टर में  20 अप्रैल 2023 को हुए आतंकी हमले के मामले में सुरक्षाबलों को बड़ी सफलता मिली है। सुरक्षाबलों ने अब उस व्यक्ति को हिरासत में ले लिया है, जिसने अपने घर में आतंकियों को शरण दी थी। दरअसल आतंकी हमले के बाद आसपास के इलाके से 60 लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया था। इन्हीं में से एक नासिर अहमद ने आतंकियों को 2 माह तक अपने घर में रखने की बात स्वीकार की है।

रिपोर्ट के अनुसार, नासिर पुँछ के मेंढर का निवासी है। पूछताछ में पता चला है कि लघभग 2 माह पहले 4 आतंकी उसके गाँव पहुँचे थे। इनको नासिर ने अपने घर में पनाह दी। उनके लिए खाने-पीने, रसद और अन्य जरूरी सामान का प्रबंध किया। पूछताछ में सुरक्षाबलों को नासिर के ओवर ग्राउंड वर्कर (OGW) होने के बारे में भी पता चला है। OGW वैसे लोग होते हैं, जो जम्मू-कश्मीर में आम जिंदगी जी रहे होते हैं, मगर आवश्यकता पड़ने पर आतंकियों की भरपूर सहायता करते हैं। मदद के बाद वे फिर से लोगों को चकमा देने के लिए अपनी आम जिंदगी में लौट जाते हैं, जिससे किसी को उन पर संदेह ही नहीं होता। रिपोर्टों की मानें तो नासिर बॉर्डर पार बैठे पाकिस्तानी आतंकियों के भी संपर्क में रहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हमले से पहले आतंकी भाटा धुरियाँ में एक पुलिया के नीचे घात लगाए बैठे थे। हमले के लिए उन्होंने स्टील की गोलियों का उपयोग किया था, ताकि बख्तरबंद ढाल को भेदा जा सके। जानकारी के अनुसार, आतंकियों ने हमले के बाद जवानों के हथियार भी लूट लिए थे। बता दें हमले के बाद से ही इलाके में बड़े पैमाने पर तलाशी अभियान चलाया जा रहा है, लेकिन अब तक एक भी आतंकी पकड़ा नहीं जा सका है। इस हमले में 5 भारतीय जवान बलिदान हो गए थे। 

चौतरफा मुसीबतों में घिरे सीएम केजरीवाल को भाजपा शासित राज्य से मिली बड़ी राहत!

यूपी निकाय चुनाव में कांग्रेस को बड़ा झटका, शहर अध्‍यक्ष दिलप्रीत सिंह ने थामा भाजपा का दामन

खालिस्तानी समर्थक अमृतपाल सिंह के पिता समेत वकीलों की टीम असम पहुंची, करेंगे मुलाकात

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -