अपने कार्य के अनुरूप ही धारण करे जूते, निश्चित ही मिलेगी सफलता

Mar 13 2018 06:01 PM
अपने कार्य के अनुरूप ही धारण करे जूते, निश्चित ही मिलेगी सफलता

ज्योतिष शास्त्र में व्यक्ति और उससे सम्बंधित वस्तुओं के अध्ययन से उसके स्वभाव, चरित्र और भविष्य की जानकारी मिलती है. व्यक्ति अपने जीवन में जिन वस्तुओं का भी उपयोग करता है उसका सम्बन्ध किसी न किसी ग्रह से अवश्य होता है. इसी प्रकार व्यक्ति के जूते भी उसकी छवि को दर्शाते है, व्यक्ति के जूते से उसकी पहचान कि जा सकती है, चाहे वह कितने ही अच्छे कपड़े क्यों ना धारण  कर ले, उसके जूते उसका व्यक्तित्व बता ही देते है. आज हम आपको जूतों सम्बंधित कुछ ऐसी बातें बताएँगे जो व्यक्ति के दुर्भाग्य का कारण बनती है और जिनको करने से व्यक्ति के जीवन व कार्यक्षेत्र में समस्याएँ उत्पन्न होती है, तो आइये जानते है जूते का कौन से दोष व्यक्ति के लिए अशुभ माना जाता है.

व्यक्ति को कभी भी उपहार में मिले या चुराए हुए जूते नहीं पहनना चाहिए, क्योंकि यह जूते शनि बाधाएं उत्पन्न करते है. यदि आप फटे या उधड़े हुए जूते पहनकर किसी शुभ कार्य के लिए जाते है, तो आपको उस कार्य में सफलता प्राप्त नहीं होती. ऐसे जूते पहनकर जाना अशुभ माना जाता है. इसके अलावा अगर आपके पास भूरे रंग का जूता है, जिसका उपयोग आप अपने कार्यक्षेत्र जाने के लिए करते है तो यह जूता आपके कार्यक्षेत्र के लिए शुभ नहीं माना जाता, इससे आपके कामों में बाधाएं उत्पन्न होती है.

जो व्यक्ति चिकित्सा के क्षेत्र में कार्य करते है या लोहे से सम्बंधित कोई कार्य करते है, तो उन व्यक्तियों को कभी भी सफ़ेद रंग के जूते नहीं पहनना चाहिए. जो व्यक्ति बैंक में कार्य करते है या किसी प्रकार के अध्ययन से जुड़े हुए है, तो उन व्यक्तिओं को ब्राउन रंग के जूते नहीं पहनना चाहिए. जल के कार्य और आयुर्वेद से सम्बंधित कार्यक्षेत्र के व्यक्ति को नीले रंग के जूते धारण नहीं करना चाहिए.

 

वास्तु का ये ख़ास निशान व्यवसाय को ले जाता है तरक्की की राह पर

विदेश यात्रा का सपना आप भी कर सकते है ऐसे साकार

इसलिए जरुरी है अपने लक्ष्य के बारे में सबको बताना..

ऐसा करने से आप बन सकते है एक सफल व्यक्ति

 

?