जान लें स्वाइन फ़्लु से बचने के उपाय और उसके लक्षण, दूर रहेगी बीमारी

बीमारी कभी भी आ सकती है जो कह कर नहीं आती. ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं स्वाइन फ्लू जैसी एक खतरनाक मौसमी बीमारी के बारे में. इसका ध्यान रखना आपको बहुत जरुरी होता है. इसके वायरस का नाम H1N1 है, ये वायरस मौसमी फ्लू के साथ भी तेज़ी से फैलता है. इसका इलाज थोड़ा मुश्किल ही होता है जिसके कारण लोगों की जान भी चली जाती है. आज हम बताने जा रहे हैं इसके लक्षण और इसने बचने के उपाय. 

"स्वाइन फ्लू" के लक्षण:

* नाक का लगातार बहना, छींक आना, नाक जाम होना.

* मांसपेशियां में दर्द या अकड़न महसूस करना.

* सिर में भयानक दर्द रहना.

* कफ और ज़ुकाम का बने रहना , लगातार खांसी आना.

* नींद ना आना, बहुत ज्यादा थकान महसूस होना.

* बुखार होना, दवा खाने के बाद भी बुखार का लगातार बढ़ना.

* गले में लगातार खराश होना.

स्वाइन फ्लू को रोकने के उपाय:

* बाहर से घर आने पर हाथ धोना एक अच्छी आदत मानी जाती है तो साबुन से अपने हाथों को ठीक से धोएं, खासकर तब जब आप किसी भीड़ भरी जगह से वापस आएं.

* जब आपको  खांसी या छींक आए, तो अपनी नाक और मुंह को तुरंत कवर कर लें. इससे वायरस को फैलने से रोका जा सकता है.

* अपने नाक, आंखों और मुंह को अपने हाथों से छूने से बचें. इन तीन जगहों से संक्रमण होने का सबसे अधिक खतरा होता है. 

* जब आप घर से बाहर निकलें तो, मास्क का उपयोग करना एक अच्छी बात होती है. इससे न केवल आप धूल से खुद को सुरक्षित करेंगें बल्कि ये संक्रमण को रोकने में भी मददगार है.

* खूब पानी और तरल पदार्थों का सेवन करें. इससे आप हाइड्रेटेड रहते हैं और वायरस रोकने में मदद मिलती है.

जानिए हरी बीन्स के फायदे, कैल्शियम की कमी को करता है दूर

हो गया है डायरिया तो करें छाछ का सेवन, सभी परेशानी होगी दूर

प्रेग्नेंट महिला कभी ना करें कॉस्टमेटिक्स का इस्तेमाल

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -