मीठा खाने की हैं शौक़ीन तो जान लें चेहरे पर हो सकता है नुकसान

ज्‍यादा मीठा खाने से एजिंग की प्रॉब्‍लम होने लगती है. लेकिन आपको बता दें कि इससे आपको चेहरे से जुडी परेशानी हो सकती है. आज हम आपको ऐसे तरीके बताने जा रहे हैं जिससे आप अपने चेहरे की देखभाल कर सकती हैं. पहले आपको बता दें कि अगर आप ज्यादा मीठा खाते हैं तो आपको क्या क्या परेशानी हो सकती है. एजिंग से दूसरी प्रॉब्‍लम्‍स भी क्रिएट हो जाती हैं. इसलिए खाने में आपको केवल 2 से 3 प्रतिशत मीठा ही खाना चाहिए. डाइट में ज्‍यादा चीनी खाने से बैक्‍टीरियल और फंगल इंफैक्‍शन हो सकते हैं.

स्किन एजिंग
अगर आप ज्‍यादा मीठा खाती हैं तो आपको एजिंग की समस्‍या जल्‍दी हो सकती है. दरअसल चीनी कॉलाजेन का बाइंड कर देती है. इसे ग्‍लाइकेशन कहते हैं. ग्‍लाइकेशन इनफलामेशन क्रिएट करता है जिससे कॉलाजेन में ब्रेक डाउन शुरू हो जाता है. इससे स्किन में रिंकल्‍स आ जाते हैं और त्‍वचा आपनी इलास्टिसिटी खोने लगती है और एजिंग के निशान त्‍वचा पर झलकने लगते हैं. 

स्किन सैगिंग
ज्‍यादा मीठा खाना ओबेसिटी का कारण बनता है. ओबेसिटी का प्रभाव केवल पेट, हाथ, पैर पर ही नहीं बल्कि चेहरे पर भी नजर आता है. फैट चेहरे के कई हिस्‍सों पर आसानी से चढ़ जाता है. जैसे गाल, चिन और कान के आस-पास के हिस्‍से. यहां पर फैट जल्‍दी चढ़ता है और इससे चेहरे पर सैगिंग होने का डर रहता है1 सैगिंग होने पर गाल लटक जाते हैं, डबल चिन नजर आने लगती है और होठों के पास की त्‍वचा भी लटक जाती है. अगर आप इनसे बचना चाहती हैं तो आपको ज्यादा मिठाई खाने पर रोक लगानी होगी.

एक्‍ने
मीठा खाने से इंसुलिन नाम का हारमोन बढ़ जाता है और इससे एक्‍ने की समस्‍या बढ़ जाती है. एक्‍ने होने से स्किन पर बैक्‍टीरियल और फंगल इंफैक्‍शन होने का डर रहता है. डायबिटिक लोगों में ऐसा ज्‍यादा होता है. अगर आप डायबिटीज के मरीज हैं, तो आपको ज्‍यादा मीठा खाने से बचना चाहिए.

बालों के लिए यूज़ करती हैं कंडीशनर तो जान लें सही बातें

गर्मी में करें बर्फ का उपयोग, ऑयली स्किन और डार्क सर्कल से मिलेगा छुटकारा

फैशन के दौर में बढ़ रहा मोज़े न पहनने का चलन, लेकिन जान लें नुकसान

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -