नहीं पता सूर्य नमस्कार का सही तरीका, तो नहीं होंगे कोई लाभ

नहीं पता सूर्य नमस्कार का सही तरीका, तो नहीं होंगे कोई लाभ

सूर्य नमस्कार स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होता है. इस योगा में सूर्य को नमस्कार करना होता है. स्वास्थ के लिए सूर्य नमस्कार लाभकारी होता है. आपको बता दें,  सूर्य नमस्कार में 12 प्रकार के आसन होते हैं जो इम्यून सिस्टम को मजबूत रखते हैं और शरीर को ऊर्जा भी प्रदान करते हैं. लेकिन कई लोगों को सूर्य नमस्कार करने का सही तरीका नहीं पता होता है जिस वजह से ये उनके लिए प्रभावी नहीं होता है और किसी भी तरह की समस्याएं दूर नहीं हो पाती हैं.

जल्दबाजी करना:
सूर्य नमस्कार कभी जल्दबाजी में ना करें. इससे आपकी मुद्रा बिगड़ जाएगी और आप पूरी तरह अपने सांस पर ध्यान भी नहीं दे पाएंगें. इससे आपको सूर्य नमस्कार करने में दिक्कत का सामना भी करना पड़ सकता है.

स्पाइन को कम लिफ्ट करना:
अर्ध उत्तानासना करते वक्त यदि आप स्पाइन को कम लिफ्ट करते हैं तो आर इससे होने वाले लाभ से वंचित रह जाएंगें. इस आसन को सही तरह से करने के लिए आपको गहरी सांस लेते हुए अपनी छाती को लिफ्ट करना चाहिए ताकि आपकी स्पाइन पूरी तरह से स्ट्रेच हो. 

दो आसनों को एक-साथ करना:
कोब्रा पोज और अपवॉर्ड फेसिंग डॉग पोज को एक-साथ ना करें, वरना आप दोनों के लाभ प्राप्त नहीं कर सकते हैं. कोब्रा पोज का अभ्यास अलग करें ताकि आपके शरीर को ताकत मिल सके. 

लो-लंज करते वक्त पैर आगे ना करना:
जो लोग सूर्य नमस्कार सीख रहे होते हैं वो अक्सर अधो मुख सवासन से अंजेनयासन पर जाते वक्त पैर को आगे लाने में गलती कर देते हैं. इस गलती से बचने के लिए घुटने को थोड़ी देर नीचे रखें और फिर पैर को आगे लाएं.

लो कैलोरी से हड्डियां हो सकती हैं कमज़ोर, जानिए क्या है नुकसान

ख़राब ओरल हेल्थ से करना पड़ सकता है कई बिमारियों का सामने, जानें लक्षण

क्या आप जानते हैं चाय पीने के बाद क्या होता है असर ?