+

जिंदगी की राह पर तो सभी चलते हैं पर तनाव रहित वही है, जो इन बातों का ध्यान रखते हैं

जिंदगी की राह पर तो सभी चलते हैं पर तनाव रहित वही है, जो इन बातों का ध्यान रखते हैं

मानव जीवन में मात्र उसके विचारों की ही तो महत्वता  होती है जो उसे महान बनाने में सहायक होते है . और विचारों में श्रेष्टता से ही हम शांत व स्थिर मन से  जीवन के कार्यों को  गति प्रदान करते है .  हमें जीवन से तनाव को दूर करना होगा. इसके लिए क्या-क्या करना होगा आप जान सकते है .

आप भीड़ भरे ट्रैफिक में फंसे हुए हैं और आपका पारा धीरे-धीरे चढ़ता जा रहा है आप कुछ पल रुकने में  परेशान  से हो रहे है । कोई आपसे गाड़ी आगे निकालने की कोशिश करता है और आप उबल पड़ते हैं। आप हॉर्न बजाते हैं, कोसते हैं, झुंझलाते हैं। इस तरह आप बड़े बुरे मूड में ऑफिस काम पर पहुंचते हैं। आप जरूरी कागज तलाशते हैं और वह आपको नहीं मिलता, आपकी डेस्क पर सारी चीजें अस्त- व्यस्त पड़ी होती हैं। आपकी मेल का इनबॉक्स भी बहुत बुरी हालत में है और आपको 25 मेल के उत्तर देने हैं। आप पहले ही कई असाइनमेंट और प्रोजेक्ट्स में देरी कर चुके हैं और बॉस आपसे खुश नहीं हैं। 11 बजने से पहले आपको बहुत जरूरी 3 काम पूरे करने थे और 12 बज चुके हैं...

आपके जीवन की  दैनिक चर्या में आप किसी न किसी कार्य को लेकर हर रोज परेशान से रहते है और यूँ ही अपनी जिंदगी व्यतीत कर देते  है .
अब आपको इस बात का पता तो चल ही गया होगा, जिनके कारण लोग तनावग्रस्त हो जाते हैं। यदि आप कोशिश करें, तो तनाव को दूर कर सकते हैं और अपने चित्त को स्थिर कर सकते हैं। तनाव की पहचान करना पहली और सबसे महत्वपूर्ण प्रक्रिया है।

इससे दूर करने के उपाय की तलाश करना आसान हो जाएगा। स्वयं को दस मिनट दें और सोचें कि आज आप तनाव में क्यों रहे? सप्ताह में ऐसा कितनी बार होता है? टॉप 10 की एक लिस्ट बनाएं और देखें कि क्या आप उनमें कुछ परिवर्तन ला सकते हैं या नहीं? एक-एक करके उन्हें सुधारते जाएं। अनावश्यक संकल्पों को छोड़ दें। संकल्प पूरा करने का दबाव अच्छे परिणाम की अपेक्षा तनावग्रस्त करता है। उस संकल्प को पहले दूर करें, जो ज्यादा तनाव देता हो। टालमटोल की प्रवृत्ति तो हर कीमत पर छोड़ने ही होगी। स्वयं को व्यवस्थित करना

बेहद जरूरी है। अव्यवस्था से तनाव बढ़ता है। शुरुआत अपनी टेबल और दराज से की जा सकती है। घर के किसी एक कोने से शुरुआत करें। सहज और सरल दिनचर्या कई समस्याओं को स्वयंमेव समाप्त कर देती है।

जल्दी उठें,देर से उठना कई परेशानियों की जड़ है। जल्दी उठने और जल्दी सोने की आदत से ट्रैफिक और ड्राइविंग की समस्या के साथ-साथ और भी कई समस्याओं से निजात पा सकते हैं। एक छोटे-से अंतराल से बड़ा बदलाव आ सकता है। सिर्फ दस मिनट का परिवर्तन लाकर देखें। आपको फर्क पता चल जाएगा।