बढ़ता तनाव बनता है बुरी याद्दाश्त का कारण, ऐसे करें बचाव

बढ़ता तनाव बनता है बुरी याद्दाश्त का कारण, ऐसे करें बचाव

आज के समय में शायद ही कोई ऐसा होगा जिसे तनाव न होगा. तनाव के कारण आपको कई तरह की परेशानी होती है और आपकी सेहत पर भी असर पड़ता है. इस तनाव की वजह से व्यक्ति को शारीरिक रूप से बहुत नुकसान होता हैं, खासतौर से व्यक्ति की याद्दाश्त कमजोर होने लगती है. ऐसे में जरूरत होती है दवाइयों की जगह कुछ ऐसे तरीकों को अपनाने की जो मानसिक तनाव को कम कर याद्दाश्त पर होने वाले बुरे प्रभाव से बचाकर रखें. तो आइये जानते है किस तरह आप बिना दवाइयों के अपनी याद्दाश्त पर पड़ने वाले बुरे प्रभाव से बच सकते हैं. इससे बचने के लिए कुछ और तरीके हम बताने जा रहे हैं. 

* फलों का सेवन, अगर आप स्वस्थ रहना चाहते हैं तो इसके लिए आपको फलों का सेवन जरूर करना चाहिए. फलों में विटामिंस, मिनरल्स औरएंटीऑक्सीडेंट तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं. अगर आप फलों का प्रतिदिन सेवन करते हैं तो आपके शरीर में पोषक तत्वों की पूर्ति होती है और आपकी याददाश्त बढ़ने लगती है.

* अखरोट में विटामिन ई और एंटीऑक्सीडेंट तत्व होते हैं. अगर आप अखरोट का प्रतिदिन सेवन करते हैं तो इससे आपका दिमाग स्वस्थ होता है और आपकी याददाश्त भी बढ़ने लगती है.

* चाय-कॉफी ना पिएं,अगर आपको चाय-कॉफी पीने की आदत पड़ गई है तो आप आज ही उसे छोड़ दें. आप चाय-कॉफी की जगह ग्रीन टी का सेवन करें तो आपका दिमाग स्वस्थ होगा.

* सुबह जल्दी उठने की आदत डालें ,अच्छे और स्वस्थ दिमाग के लिए जरूरी है कि आप सुबह जल्दी उठें. डॉक्टरों का कहना है कि जो लोग सुबह जल्दी उठते हैं, उनका मानसिक स्वास्थ्य बेहतर होता है.

दलिये में छिपे है फिटनेस के इतने राज

गठिया की परेशानी को घरेलु तरीकों से करें दूर

जोड़ों के दर्द से पाएं राहत, अपनाएं देसी तरीके