जन्माष्टमी पर करें भगवान श्री कृष्ण के इन नामों का जाप, मिलेगा महालाभ

Aug 19 2019 04:00 PM
जन्माष्टमी पर करें भगवान श्री कृष्ण के इन नामों का जाप, मिलेगा महालाभ

श्री कृष्ण जन्माष्टमी हर साल बहुत ही धूम धाम से मनाया जाने वाला पर्व है जो इस बार 23 और 24 अगस्त को मनाई जाने वाली है. ऐसे में आज हम आपके लिए लेकर आए हैं श्रीकृष्ण के वह नाम जिनके जाप मात्र से सारे संकट दूर हो जाते हैं और जीवन सुखमय हो जाता है. जी हाँ, इन नामों के जाप से खुशी,धन,सफलता और सुख-सौभाग्य की प्राप्ति होना शुरू हो जाती है और इसी के साथ यह नाम शुभ प्रभाव बढ़ाने व सुख प्रदान करने का काम करते हैं. आइए जानते हैं इन नामों को.

श्री कृष्णा के नाम -

कंस दलन , केशिदमन , जसुदासुत , नंदलाल , मुरलीधर ,गोविन्द, हर , गिरधारी गोपाल .
सुंदरश्याम , राधारमण , रुक्मणी के श्रृंगार , नन्द नंदन , वासुदेव सुत, राधा प्राणाधार .
चंद्रश्रेष्ठ यदुवंश के गोपिन के चितचोर , गोपी वल्लभ , कृष्णजी, कान्हा , माखन चोर .
ब्रजपति , ब्रजनिधि, ब्रज्रमण , ब्रज्दाता , बराजमान , ब्रजभानु , ब्रजचंद्रमा , वृजकेतू भगवान.
श्याम , कन्हय्या , सांवरा , सतभामा सिरमोर , वृजभूषण , अखिलेश्वर, श्यामल , नन्द किशोर.
वृजनायक , घनश्याम जी , गोकल के उजियार , योगेश्यर , यदुवंश्म्नी , भगवान प्राणाधार .
कुंजबिहारी , देवकी नंदन , परमपिता , गीता गायक , नंदलाला , वासुदेव के प्यारे , दीन दयालु , सुखदायक .
मुरलीधर , माधव , मदन , चक्र , सुदर्शनधारी , नाग नथेयारास रचेया, वनमाली , श्री बनवारी .
पार्थसारथी , अच्युत , द्वारिकाधीश ललाम , करुणा सागर , भागवत वछल , नारायण , सुखधाम ,.
शेषशायी , सुखराशी , विट्ठल , तीन लोक के नाथ , राधावल्लभ , करुनेश्वर, मोहन , लक्ष्मी नाथ.
निर्गुण , सगुण , निरंजन , माधव , अविनासी , मायापति , भगतन के दाता , दुखहंता,सुखरासी .
असुरदमन , संकटहरण , राधा के श्रृंगार , मधुसूदन , त्रिलोकपति , दयासिन्धु , कतार .
गुणातीत , गोपेश , जगपति , जगदीश्वर, जसुदाजीवन , मुरली मनोहर , सुखकर परमेश्वर .
पीतवसन , त्रीभंगिमा , गऊ चरावन हार , गीतागायक राधिका नायक मनहर कृष्ण मुरार .
सेवक याता , भाग्य विधाता , आरत भयहारी , सखा , बंधू तुम सब कुछ मेरे, रक्षक बलिहारी .

जन्माष्टमी पर करें श्रीकृष्ण अष्टक का पाठ, मिट जाएंगे सारे संताप

23 अगस्त को है जन्माष्टमी का त्यौहार, इस तरह रखे व्रत

इस महीने भूल से भी ना करें दही का सेवन वरना...