देश से कांग्रेस को कभी नहीं कर पाऐंगे विदा

नोएडा/दिल्ली: पांच राज्यों में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को मिली हार के बाद कांग्रेस में मंथन का दौर है। कांग्रेस कार्यकर्ता विचार कर रहे हैं कि आखिर क्या नेतृत्व परिवर्तन किया जाए या नहीं। मगर कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व का कहना था कि वह लोगों का विश्वास फिर हासिल करेगी।

पार्टी अपने आधारभूत सिद्धांतों पर विश्वास कायम रखेगी और इन सिद्धांतों पर ही चलेगी। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने कहा कि हालांकि राष्ट्रीय युवा कांग्रेस के सम्मेलन में भी उस सवाल का जवाब नहीं मिला जिसकी मांग कांग्रेस में हो रही है।

सोनिया गांधी ने कहा है कि फिलहाल नेतृत्व परिवर्तन की जरूरत नहीं है। उन्होंन प्रियंका गांधी के बड़ी जिम्मेदारी संभालने की बात को खारिज कर दिया । दरअसल कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी भूतपूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर आयोजित किए गए श्रद्धांजलि समारोह में उपस्थितों को संबोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस मुक्त भारत का सपना देखने वाले गलतफहमी में हैं। वे देश से कांग्रेस को कभी भी विदा नहीं कर पाऐंगे।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -