करवा चौथ के 'समलैंगिक' विज्ञापन पर डाबर ने मांगी माफ़ी, फिर भी नेटीजन्स बोले- थू है तुमपर

नई दिल्ली: करवा चौथ पर डाबर फेम ब्लीच विज्ञापन पर विवाद गहराने के बाद कंपनी ने इसे हटा दिया है। डाबर ने सोमवार (25 अक्टूबर 2021) को एक बयान जारी करते हुए इस एड को वापस लेने की जानकारी दी। कंपनी ने सोशल मीडिया पर पोस्ट साझा करते हुए लोगों की भावनाएँ आहत होने पर दुख प्रकट किया है और इसके लिए माफी भी माँगी है। हालाँकि, डाबर के माफी माँगने के बाद भी सोशल मीडिया यूजर्स का गुस्सा कम नहीं हुआ है। नेटिजन्स भारतीय संस्कृति पर इस प्रकार से हमला करने को लेकर काफी आक्रोशित हैं।

इंस्टाग्राम पर एक यूजर ने लिखा, 'हमें तुम्हारी माफी स्वीकार नहीं है।' वहीं, एक अन्य यूज़र ने लिखा कि इस कंपनी का कोई ईमान धर्म नहीं है। एक यूजर ने ट्विटर पर कमेंट करते हुए लिखा कि, 'हमसे ही कमाकर हमारे त्योहारों का मजाक उड़ाते हो अब तुम देखो। भारत की जनता ट्विटर पर नहीं बाजार में दिखाती है तुम जैसी कंपनी की औकात।' एक अन्य यूजर लिखते हैं कि, 'हमेशा हिंदू धर्म और उनके धार्मिक त्योहारों को ही निशाना क्यों बनाया जाता है? हम आपके उत्पादों का बहिष्कार करते हैं।'

हरीश लिखते हैं कि, 'यह बेहद घटिया शर्मनाक विज्ञापन था। कभी नहीं सोचा था कि डाबर जैसी कंपनी हिंदू विरोधी ताकतों का समर्थन करेगी।' डाबर के माफी माँगने पर आक्रोशित एक सोशल मीडिया यूजर ने ​कहा कि, 'तो घटिया लोगों बनाया ही क्यों था। बस पब्लिसिटी के लिए, थू है तुम पर। अगर दम हो तो किसी और पर बना…।'

टेस्ला के 'रॉकेट' से अमीरी के शिखर पर एलन मस्क, महज 24 घंटे में कमाए रिकॉर्ड 2,71,577 लाख करोड़ रुपये

पेट्रोल-डीजल को लेकर आई अच्छी खबर, जानिए आज का भाव

टाटा संस के साथ राष्ट्रीय विमानन कंपनी एयर इंडिया ने किया इतने हजार करोड़ के शेयर खरीद का समझौता

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -