इंजीनियरिंग कॉलेजों के लिए सिंगल एंट्रेंस टेस्ट लेना या न लेना-राज्यों से बातचीत के बाद

Jan 13 2017 04:29 PM
इंजीनियरिंग कॉलेजों के लिए सिंगल एंट्रेंस टेस्ट लेना या न लेना-राज्यों से बातचीत के बाद

नयी दिल्ली- मिली जानकारी के मुताबिक़ बताया जा रहा है की जल्द ही इंजीनियरिंग कॉलेजों में दाखिले के लिए नीट जैसा सिंगल एंट्रेंस एग्जाम शुरू होगा. इस पर मोदी सरकार विभिन्न राज्यों की सरकारों से सलाह और सहमति के बाद ही तय करेगी. इस एंट्रेंस टेस्टके लिए अपने - अपने विचार व्यक्त करेगें इसके बात ही निंर्णय लिया जाएगा.

आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई) के उच्च स्तरीय बैठक में इंजीनियरिंग कॉलेजों में दाखिले के लिए सिंगल एंट्रेंस टेस्ट लेने के मुद्दे पर चर्चा हुई. काफी समय से यह बात उठ रही है कि जिस तरह से मेडिकल कॉलेजों में दाखिले के लिए नीट परीक्षा शुरू की गई है उसी तरह से इंजीनियरिंग कॉलेजों में एडमिशन के लिए भी ऐसा ही सिंगल एंट्रेंस टेस्ट शुरू हो. 

बताया जा रहा है की इस प्रस्ताव को बड़ा समर्थन मिला है लेकिन यह फैसला किया गया कि विभिन्न राज्यों के साथ इस मुद्दे पर चर्चा करने के बाद कोई अंतिम फैसला किया जायेगा. यह टेस्ट लेने का मुख्य कारण इंजीनियरिंग कॉलेजों में दाखिला प्रक्रिया में हेराफैरी पर लगाम लगाई जा सकेगी.

IP यूनिवर्सिटी: Phd कोर्स के लिए एडमिशन हुई शुरू,जल्द करें आवेदन

फर्जी जाति प्रमाणपत्र दिखाकर एडमिशन लेने वालों पर कड़ी कार्यवाई