आज किसानों के खाते में CM शिवराज ने भेजे 1540 करोड़

भोपाल: आज MP की राजधानी भोपाल के मिंटो हाल में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान किसान कल्याण योजना के तहत कार्यक्रम में शामिल हुए। इस दौरान मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत 1540 करोड़ की राशि किसानों के खाते में हस्तांतरित की। यह कार्यक्रम राजधानी के मिंटो हॉल में आयोजित हुआ और इसका शुभारंभ कन्या पूजन व दीप प्रज्ज्वलन के साथ किया गया। जी हाँ और आज ही मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने "मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना" के तहत प्रदेश के 77 लाख किसानों के खातों में 1540 करोड़ रूपये की राशि सिंगल क्लिक के माध्यम से अंतरित की।

इस दौरान मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा- 'मध्यप्रदेश की हरियाली और खुशहाली के लिए जो दिन और रात काम करते हैं। ऐसे किसानों को मैं शीष झुकाकर प्रणाम करता हूं, कृषकों के कारण आज देश के अन्न भंडार भरे हुए हैं। भगवान के बाद अगर मेरे लिए कोई श्रद्धा का केंद्र है तो वह मेरे किसान हैं, अगर मैं कहूं कि सही अर्थों में आप अन्नदाता भी हैं और प्रदेश के भाग्य विधाता भी हैं तो अतिश्योक्ति नहीं होगी।' इसी के साथ कार्यक्रम में उन्होंने यह भी कहा, 'हमारा लक्ष्य वर्ष 2025 तक प्रदेश में 65 लाख हेक्टेयर भूमि पर सिंचाई की व्यवस्था हो। इसके लिए हम पानी की आधुनिक तकनीक से व्यवस्था करेंगे, साथ ही पुराने तालाबों, बावड़ी और अन्य जल स्रोतों को भी जिंदा करेंगे, हमने पाइप लाइन के जरिये नदियों से खेतों तक पानी पहुंचाने का कार्य किया है। नर्मदा मैया को क्षिप्रा मैया, गंभीर नदी, कालीसिंध नदी, पार्वदी नदी से जोड़ा। हमने जगह-जगह सिंचाई की योजनाओं का जाल बिछाकर सिंचाई की क्षमता बढ़ाकर 42 लाख हेक्टेयर कर दी।'

आगे उन्होंने कहा, 'हमने कोरोना काल में जैसे ऑक्सीजन की मॉनिटरिंग की, वैसे ही खाद की भी मॉनिटरिंग कर रहे हैं। किसी ने खाद की कालाबाजारी करने की कोशिश की तो उसे किसी भी कीमत पर नहीं छोड़ेंगे, सीधे जेल पहुंचाने का काम करेंगे, हम 1 नवंबर से अभियान का प्रारंभ करेंगे कि किसानों के अविवादित खाते अलग-अलग कर दिए जाएं। परिवार के सदस्यों की खेती की जमीन के अलग-अलग खाते होंगे।'

भारत के पूर्व उपराष्ट्रपति की जयंती पर CM शिवराज ने किया नमन

MP: स्कूल बस दुर्घटनाग्रस्त, चालक की मौत

पीएम मोदी ने कहा- "गोवा में ग्रामीण बुनियादी ढांचे के आधुनिकीकरण के लिए सरकार..."

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -