गुंडों पर नकेल कसे अधिकारी

May 01 2015 06:29 PM
गुंडों पर नकेल कसे अधिकारी

मध्यप्रदेश/इंदौर : प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान आज अचानक इंदौर पहुंचे। यहां वे वीआईपी लाउंज पहुंच गई। जहां उन्होंने आईजी, डीआईजी, एसपी, सीएसपी और प्रभारी कलेक्टर को बुलवाया। इस दौरान उन्होंने इंदौर में आपराधिक वारदातें बढ़ने को लेकर सवाल किए। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा कि इंदौर के मामले में उन्हें अच्छी इमेज नहीं मिल रही है। उन्होंने कहा कि मुझे कई लोगों ने फोन कर इंदौर की स्थिति पर चिंता जताई। प्रदेश के बाहर रहने वाले लोग भी इंदौर को लेकर फोन कर रहे हैं। आखिर यह हो क्या रहा है।

उन्होंने अधिकारियों से कहा कि मुझे रिजल्ट चाहिए। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों को हर हाल में गुंडों पर नकेल कसने और उन्हें किसी भी सूरत में न बख्शने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस बात का पूरा ध्यान रखें कि जनता परेशान न हो। उन्होंने कहा कि गंडों पर नकेल कसने के लिए आपको मुझसे क्या चाहिए, फ्री हैंड दे रखा है। किसी भी अधिकारी को बदलना है तो बताओ उसे हटा देता हूं। यदि बल की कमी है तो उसे भी पूरा कर दूंगा लेकिन बदलाव हर हाल में चाहिए।

मगर मैं गुंडागर्दी किसी भी स्थिति में बर्दाश्त नहीं करूंगा। नाश्ता लाए जाने पर भी मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान झल्ला दिए उन्होंने कहा कि अभी मैं अफसरों से बात कर रहा हूं, इसलिए इसकी कोई जरूरत नहीं है। इसके बाद वे 5.5 बजे गुस्से में वीआईपी लाउंज से चले गए और किसी कार्यक्रम में शामिल होने पहुंच गए।