संक्रमण रोकने का मूल मंत्र है 'अधिक से अधिक टेस्टिंग' : CM शिवराज सिंह चौहान

Jun 10 2021 12:01 PM
संक्रमण रोकने का मूल मंत्र है 'अधिक से अधिक टेस्टिंग' : CM शिवराज सिंह चौहान

भोपाल: मध्यप्रदेश अब धीरे-धीरे अनलॉक होने लगा है। इस बीच मंत्रालय में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा बैठक की। इस बैठक के दौरान चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग, मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान और स्वास्थ्य आयुक्त आकाश त्रिपाठी आदि मौजूद रहे।

बताया जा रहा है कि इस बैठक के दौरान प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि, ''अब ऐसे प्रयास किए जाएँ, जिससे प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर, यदि आती भी है, तो उसका असर हो ही नहीं, अथवा नगण्य हो। कोरोना संक्रमण रोकने का मूल मंत्र है अधिक से अधिक टेस्टिंग। लोगों के पास जा-जाकर टेस्टिंग की जाए और कोरोना के एक-एक मरीज़ की तलाश कर आइसोलेट कर उपचार किया जाए।''

वही इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि, ''प्रदेश में कोरोना संक्रमण अब समाप्ति की ओर है। प्रदेश में कोरोना के नए प्रकरण 500 से नीचे आए हैं और 50 जिलों में साप्ताहिक पॉजिटिविटी रेट 2% से नीचे आ गई है। संक्रमण की दृष्टि से देश में प्रदेश का 23वाँ स्थान है। प्रदेश की रिकवरी रेट 98% हो गई है। वैक्सीन कोरोना का सुरक्षा कवच है। प्रदेश में कोरोना टीकाकरण का सघन अभियान चलाया जाए।''

वही इस दौरान प्रदेश के जिलों में कोरोना के मामलों की स्थिति की जानकारी देते हुए उन्होंने बताया कि, ''प्रदेश के 6 जिलों में ही अब 10 से अधिक कोरोना के नए प्रकरण आए हैं। इंदौर में 144, भोपाल में 104, जबलपुर में 39, उज्जैन में 13, बैतूल में 12 तथा रतलाम में 11 नए प्रकरण आए हैं। इसके अलावा 10 जिलों अलीराजपुर, भिंड, दतिया, डिंडोरी, गुना, हरदा, मंडला, श्योपुर, सिंगरौली और टीकमगढ़ में कोरोना का कोई भी नया मामला नहीं मिला है।''

MP: कृषि विकास मंत्री कमल पटेल ने PM मोदी को व्यक्त किया आभार

आँख फोड़ी, बेरहमी से मारकर पेड़ से लटकाया, झारखंड में भाजपा नेता की 16 वर्षीय बेटी की हत्या

भोपाल: मंत्री भूपेंद्र सिंह से मिले राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया