पंजाब चुनाव में आप के विरोधियों की ढाल तो नहीं बनेगा सैक्स स्केंडल!

Sep 01 2016 07:23 PM
पंजाब चुनाव में आप के विरोधियों की ढाल तो नहीं बनेगा सैक्स स्केंडल!

आम आदमी पार्टी के बर्खास्त विधायक और दिल्ली राज्य के पूर्व मंत्री संदीप कुमार के सेक्स स्केंडल से भारतीय राजनीति में भूचाल मच गया है। इतना ही नहीं राजनीति में आए इस तरह के बदलाव और इस क्षेत्र में मचे बवाल के बीच चुनावी हलचल भी हो रही है। कुछ नेताओं ने पार्टी को लेकर खुलासा किया है कि पंजाब में कुछ नेता यहां पर केवल मौज करने या ऐश करने ही आते हैं।

इस तरह की बातों के बाद बवाल मच गया है कि जिस पार्टी पर भाजपा शुरू से ही बरसती रही। केंद्र सरकार ने प्रारंभ से ही पार्टी के विधायकों को फर्जी डिग्री मामले, घरेलू हिंसा मसले आदि को लेकर घेरना प्रारंभ किया और एक एक कर आम आदमी पार्टी के विधायक व मंत्री जेल जाते चले गए।

वह पार्टी क्या इस तरह के मामलों से उबर पाएगी। पार्टी में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का विरोध हुआ और पार्टी में दो फाड़ हो गई। इससे तो पार्टी कुछ उबर गई लेकिन अब पार्टी के नेता वर्चस्व की लड़ाई के लिए आपस में लड़ सकते हैं इस बात में कोई दो राय नज़र नहीं आती है। यही नहीं पंजाब में आगामी चुनाव के लिए नेता एक दूसरे से लड़ सकते हैं जिससे पार्टी में अंतरकलह और बिखराव की स्थिति हो सकती है।

ऐसे में सवाल यह है कि केंद्र सरकार द्वारा किए जाने वाले हमलों से कमजोर हुई पार्टी और अपने नेताओं के मामले में कई तरह के आरोप झेलने वाली आम आदमी पार्टी दिल्ली में कब तक अपना वजूद मजबूती से बरकारार रख पाएगी और दिल्ली के अलावा राष्ट्रीय स्तर पर आप कब तक एक सशक्त व तीसरे विकल्प के तोर पर उभरकर आ पाएगी। यह एक बड़ा सवाल है। बहरहाल सीएम केजरीवाल अपना किला लड़ाए हैं उन्हें पार्टी के अंदर आचार संहिता को विकसित करना है तो दूसरी ओर मोदी लहर से लड़ना है।

'लव गडकरी'