नाॅर्थ ईस्ट में ऊंटों से की जाएगी गश्त

Dec 28 2017 04:35 PM
नाॅर्थ ईस्ट में ऊंटों से की जाएगी गश्त

सिक्किम। अभी तक तो भारतीय सेना ऊॅंटों से सीमा क्षेत्र की निगरानी का कार्य राजस्थान क्षेत्र में करती रही है लेकिन, अब यह जानकारी सामने आई है कि, जल्द ही नाॅर्थ ईस्ट क्षेत्र की चीन से सटी सीमाओं पर भारतीय सुरक्षाबलों को गश्त के लिए, ऊंटों का बल मिलेगा। जी हां, जानकारी मिली है कि, सिक्किम - तिब्बत - भूटान क्षेत्र में चीन की हलचल और भूटान व तिब्बत और, भारत के पास डोकलाम में चीन द्वारा घुसपैठ के प्रयासों को रोकने के लिए, भारत अपने गश्ती दल को मुस्तैद करने में लगा है।

यह क्षेत्र सर्दियों में बर्फ से प्रभावित होता है। तो दूसरी ओर, यह पहाड़ी क्षेत्र है लेकिन अन्य मौसम में यहां ठंडक सामान्य होती है। ऐसे में ऊंटों को काम में लिया जा सकता है। ऊंटों को काम में लिए जाने के पायलट प्रोजेक्ट के अंतर्गत लाइन आॅफ एक्चुअल कंट्रोल पर निगरानी कड़ी कर दी गई है।

सीमा क्षेत्र में गश्ती करने के अलावा, ऊंट यहां पर रसद, आयुध, बंदूकें आदि सामग्री पहुंचाने के उपयोग में लाए जा सकते हैं, मगर, इस हेतु ऊंटों को प्रशिक्षण उपलब्ध करवाया जाएगा। गौरतलब है कि, इसके लिए राष्ट्रीय ऊंट अनुसंधान केंद्र, बीकानेर की सहायता ली जाएगी, ऐसे ऊंटों को काम में लिया जाएगा जो कि कूबड़ वाले हों।

शहीद मेजर प्रफुल्ल के साहस की दास्तान

जम्मू कश्मीर के नौशेरा में पाकिस्तान ने किया सीजफायर का उल्लंघन

वादियों में गोला-बारूद की गूंज जारी, आतंकी ढेर

पाक की नापाक हरकत का सेना ने दिया करारा जवाब, एक निशानेबाज़ ढेर

 

 

?