दिल्ली शराब घोटाले में दूसरी गिरफ्तारी, मनीष सिसोदिया का ख़ास समीर महेंद्रू अरेस्ट

नई दिल्ली: दिल्ली के शराब नीति मामले (Delhi Liquor Scam) में केंद्रीय जांच एजेंसी प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने दूसरी गिरफ्तारी कर ली है। ED ने दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia Liquor Scam) के करीबी समीर महेंद्रू को अरेस्ट कर लिया है। इससे पहले मंगलवार को CBI ने विजय नायर को अरेस्ट कर लिया था। ED की FIR के अनुसार, इंडोस्पिरिट्स के मालिक समीर महेंद्रू द्वारा कथित तौर पर सिसोदिया के 'करीबी सहयोगियों' को करोड़ों में कम से कम दो भुगतान किए गए थे, जो कथित रूप से आबकारी नीति तैयार करने और कार्यान्वयन में अनियमितताओं में शामिल शराब व्यापारियों में शामिल थे।

बता दें कि दिल्ली शराब घोटाला मामले (Delhi Liquor Scam) में मंगलवार को CBI ने विजय नायर को अरेस्ट किया था। वह एक एंटरटेनमेंट और इवेंट मीडिया कंपनी के CEO रह चुके हैं। ED ने भी उनके ठिकानों पर भी दबिश दी थी। नायर को इस घोटाले (Delhi Liquor Scam) का मास्टरमाइंड बताया जा रहा है। जानकारी के अनुसार, विजय नायर को मंगलवार को CBI दफ्तर में पूछताछ के लिए बुलाया गया था। इसके बाद उन्हें अरेस्ट कर लिया गया। विजय नायर पर चुन-चुनकर लाइसेंस देने, गुटबंदी करने और साजिश रचने का इल्जाम है।

विजय नायर की गिरफ्तारी पर आम आदमी पार्टी (AAP) की तरफ से सफाई भी दी गई थी। AAP प्रवक्ता अक्षय मराठे ने कहा है कि विजय नायर कुछ वर्षों के लिए AAP के संचार प्रभारी थे। उन्होंने कहा कि उनको फर्जी मामले में फंसाया जा रहा है। मराठे ने दावा किया कि यह पूरी तरह से सियासी बदला है क्योंकि नायर गुजरात चुनाव के लिए रणनीति बना रहे थे।

दरअसल, यह पूरा मामला दिल्ली की नई शराब नीति (Delhi Liquor Scam) को लेकर शुरू हुआ था, जिसे CM केजरीवाल ने बहुत शानदार नीति बताया था। लेकिन, दिल्ली सरकार पर नई शराब नीति के तहत घोटाला (Delhi Liquor Scam) करने के आरोप लगे और LG ने इसकी CBI जांच के आदेश दिए।  जाँच के आदेश जारी होते ही केजरीवाल सरकार घबरा गई और वापस पुरानी नीति लागू करने का ऐलान कर दिया। लेकिन यह नहीं बताया कि, उन्होंने यह यू टर्न किसलिए लिया है। इसके बाद जब डिप्टी CM मनीष सिसोदिया के खिलाफ CBI की जांच शुरू हुई, तो खुद पर लगे आरोपों से ध्यान हटाने के लिए केजरीवाल हर दिन विपक्षी दल पर एक नया आरोप लगाने लगे। 

चीन सीमा पर भारत ने तैनात किए रॉकेट और तोप, ड्रैगन को जवाब देने की तैयारी शुरू

दिल्ली 'शराब घोटाले' में हुई पहली गिरफ्तारी, AAP कार्यकर्ता रहे विजय नायर अरेस्ट

PFI पर क्यों लगा बैन ? केंद्र सरकार ने खोला कट्टरपंथी संगठन का काला चिट्ठा

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -