पूजा का सामान समझ नहर में फेंक दिए कीमती जेवर...

पूजा का सामान समझ नहर में फेंक दिए कीमती जेवर...

कभी भी बिना देख भाल के काम करना महंगा पड़ जाता है. आपके साथ भी कई बार ऐसा हुआ होगा कि आपने अच्छी चीज़ को फेंक दिया होगा और फालतू की चीज़ को आपने रख लिया होगा और उसके बाद आपको भी अफसोस हुआ होगा. दरसल, संगरुर के एक परिवार के साथ ऐसा ही हुआ. उनके बारे में जानेंगे आप भी हैरानी में पड़ जायेंगे और सोचेंगे कि ऐसी गलती कोई कैसे कर सकता है. आपको बता दें, इस परिवार के एक सदस्य ने बिना देखे पूजा पाठ की सामग्री वाला लिफाफा समझ कर सोने-चांदी के गहने वाला लिफाफा पानी में बहा दिया.

लोग अक्सर पूजा पाठ की सामग्री को बहते पानी में प्रवाह कर देते हैं. मगर संगरूर के एक परिवार को नहर में पूजा सामग्री प्रवाहित करना खासा महंगा पड़ गया है. दरअसल, इस परिवार ने पूजा सामग्री की जगह सोने-चांदी के गहनों वाला लिफाफा ही नहर में फैंक दिया. हुआ कुछ यूं कि एक परिवार किसी समारोह में जा रहा था. उन्होंने सोचा कि चलो रास्ते में पड़ती नहर में पूजा सामग्री भी प्रवाहित कर देंगे. सारा सामान लिफाफे में डालकर दूसरे सामान के साथ ही गाड़ी में रख लिया.

इसके बाद जब गाड़ी नदामपुर बाइपास पर पड़ती नहर पर रूकी. परिवार ने कार में से लिफाफा निकाला और नहर में फैंक दिया. बाद में देखा तो पता चला कि जो लिफाफा फैंकना था वह तो कार में ही रह गया और जेवरों वाला लिफाफा फैंक दिया तो उनके होश उड़ गए. वे नहर की तरफ गए लेकिन तब तक लिफाफा बह चुका था. इसके बाद उनके साथ क्या हुआ होगा ये आप सोच ही सकते हैं. 

इंगेजमेंट रिंग को उँगलियों में गढ़वा रही लकड़ियां, ये है कारण

आसमान से होने लगी सोने चांदी की बारिश, ये था नज़ारा

यह है दुनिया की सबसे लंबी 'नमक की गुफा', 9 देश और 88 खोजकर्ताओं की मेहनत का नतीजा