पुलिस अफसर जियाउल हक़ के हत्यारे को समाजवादी पार्टी ने बनाया उम्मीदवार, पत्नी ने जताया विरोध

लखनऊ: दिवंगत CO जियाउल हक की पत्नी परवीन आजाद ने अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी (सपा) द्वारा गुलशन यादव को कुंडा सीट से टिकट दिए जाने का विरोध जताया है. दरअसल, 2013 में उत्तर प्रदेश के जिला प्रतापगढ़ के कुंडा में तैनात सीओ का क़त्ल कर दिया गया था. हत्या का इल्जाम गुलशन यादव पर लगा था. 

यही नहीं गुलशन के अलावा इस मामले में कुंडा के MLA और पूर्व मंत्री रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया भी नामजद थे. ऐसे में जियाउल हक की पत्नी परवीन आजाद ने राजा भैया की उम्मीदवारी पर भी सवाल उठाते हुए कहा कि लोकतंत्र में लोगों के बीच स्वच्छ और निष्पक्ष छवि के लोग होने चाहिए. CO जियाउल हक प्रतापगढ़ के कुंडा में तैनात थे. 2013 में उनकी हत्या हुई थी. हत्या उस वक़्त की गई थी जब वह गांव में विवाद के बाद फैली अराजकता को रोकने के लिए पहुंचे थे.

हालांकि इस घटना ने राज्य की अखिलेश यादव सरकार को हिला कर रख दिया था. रघुराज प्रताप उर्फ राजा भैया को भी कैबिनेट से इस्तीफा देना पड़ा था. इस मामले में CBI द्वारा जांच की गई थी. हालांकि, CBI ने रघुराज प्रताप को क्लीन चिट दे दी थी. मगर परवीन आजाद ने इस फैसले को इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ बेंच में चुनौती दी थी. अब इस मामले में राजा भैया के खिलाफ जांच फिर आरंभ हो गई है. 

आपस में भिड़े भाजपा-कांग्रेस कार्यकर्ता, पुलिस ने किया लाठीचार्ज

पंजाब चुनाव: सिद्धू को घर में ही पटखनी देने का प्लान, अकाली दल ने मजीठिया को बनाया हथियार

टीपू सुल्तान के नाम पर छिड़ा विवाद! BJP के विरोध पर बोले संजय राउत- ये सब इतिहासचार्य इतिहास बदलेंगे?

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -