पाकिस्तान के जयकारे लगाने वालों को, गोली मारो गद्दारों को

Feb 13 2016 02:36 PM
पाकिस्तान के जयकारे लगाने वालों को, गोली मारो गद्दारों को

एटा : जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में देशद्रोही नारेबाजी किए जाने को लेकर राजनीति गर्मा गई है। इस मामले में राजनीति भाजपा बनाम गैर भाजपा की तो हो गई है बल्कि अब राजनेताओं द्वारा देशद्रोही नारेबाजी करने वालों का विरोध किया जा रहा है। इस मामले में उत्तरप्रदेश के भारतीय जनता पार्टी सांसद साक्षी महाराज ने कहा कि राष्ट्रविरोधी नारेबाजी करना सही नहीं है। यह कार्य गलत है। जो भी इस तरह की नारेबाजी करते हैं उन्हें गोलीमार देना चाहिए। भारत में रहकर ये लोग पाकिस्तान समर्थित नारे लगाते हैं। 

यही नहीं इससे बड़ी शर्मनाक बात और कुछ नहीं है। इस घटना पर राजनीतिक दल भी तुष्टीकरण में लगे हुए हैं। इससे ऊपर उठकर इस तरह के लोगों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई करना होगी। साक्षी महाराज के बयान में यह भी कहा गया है कि देश के लिए शहीद होने वालों का अपमान किया गया है। उन्होंने उत्तरप्रदेश के कैबिनेट मंत्री आजम खान और एमआईएम के प्रमुख ओवैसी पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्हें जेल भेज देना चाहिए।

उल्लेखनीय है कि इस मामले में पहले भी विरोध की राजनीति तेज़ हो चुकी है। जहां कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने इस तरह की कार्रवाई को राजनीति से प्रेरित बताया है हालांकि उन्होंने यह भी कहा है कि देशद्रोह को लेकर कोई समझौता नहीं हो सकता लेकिन अभिव्यक्ति की बात की जाना चाहिए। तो दूसरी ओर आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक डाॅ. कुमार विश्वास ने भी देशद्रोही नारेबाजी करने को लेकर अपना विरोध किया है। उन्होंने भारत में रहकर पाकिस्तान के जयकारे लगाने वालों को गद्दार तक कह दिया।