जो कोई नहीं कर सका उसे करने वाले का नाम सचिन, इनके कहने पर बने बल्लेबाज

Apr 24 2019 02:44 PM
जो कोई नहीं कर सका उसे करने वाले का नाम सचिन, इनके कहने पर बने बल्लेबाज

क्रिकेट की दुनिया में करीब ढाई दशक तक कुल 24 वर्षों तक छाए रहने वाले 'क्रिकेट के भगवान' सचिन तेंदुलकर आज 46 साल के हो चुके हैं. आज ही के दिन साल 1973 में मुंबई के शिवाजी पार्क राणाडे रोड स्थित निर्मल नर्सिंग होम में सचिन का जन्म हुआ था. आगे चलकर यह नाम क्रिकेट का युगपुरुष बन गया. महज 16 वर्ष की उम्र में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रख दिया था और देखते ही देखते सचिन  'क्रिकेट के भगवान' कहलाने लगे. 

तुम बल्लेबाजी पर पूरा ध्यान क्यों नहीं लगाते..?

बहुत कम लोगों को यह पता है कि सचिन बल्लेबाज नहीं, तेज गेंदबाज बनने की ख्वाहिश रखते थे. तभी तो वे मुंबई से चेन्नई एमआरएफ पेस एकेडमी की ओर रवाना हो गए. लेकिन वहां पूर्व ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज डेनिस लिली ने उनकी चाहत को खारिज किया एयर उनसे कहा कि तुम बल्लेबाज ही बने रहो. बीएस फिर यहीं से सचिन के क्रिकेट जीवन की शुरुआत हुई. 

सचिन के 10 'माइल स्टोन'

1.  12 वर्ष की उम्र में अंडर-17 हैरिस शील्ड में अपने स्कूल की ओर से खेलते हुए उन्होंने शतक जड़ दिया था. 

2. 14 साल के हुए तो विनोद कांबली के साथ 664 रनों की पार्टनरशिप की और इस तरह ये वर्ल्ड रिकॉर्ड खड़ा कर लिया. 

3. 15 वर्ष की उम्र में तत्कालीन बंबई के लिए फर्स्ट क्लास में डेब्यू करते हुए शतक ठोंका. 

4. जब वे 16 साल के हुए तो पाकिस्तान के खिलाफ कराची (1989) में टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू. 

5. 17 वर्ष के हुए तो टेस्ट क्रिकेट में अपना पहला शतक ठोंका और इंग्लैंड के खिलाफ 1990 का ओल्ड ट्रैफर्ड टेस्ट भी हार से बचा लिया.

6. साल 2000 में 50 इंटरनेशनल शतक जड़ने वाले पहले बल्लेबाज बने.

7. 2003 वर्ल्ड कप में 673 रन ठोंके. जो वर्ल्ड कप के इतिहास में सर्वाधिक रनों का रिकॉर्ड भी है. 

8. साल 2008 में टेस्ट क्रिकेट में सबसे अधिक रन बनाने के मामले में सचिन ने ब्रायन लारा को पछाड़ा. 

9. 2009 में 14,000 टेस्ट रन, 30,000 इटरनेशनल रन और 90 अंतरराष्ट्रीय शतक का बेहद बड़ा कारनामा अपने नाम किया. 

10. 36 साल के होने पर ऐसा कारनामा किया, जो क्सिई ने नहीं किया. वनदे क्रिकेट इतिहास का उन्होंने पहला दोहरा शतक ठोंका.

 

एशियन चैम्पियनशिप के दूसरे दौर में साइना की एंट्री

हेप्टाथलॉन खिलाड़ी स्वप्ना बर्मन ने एशियन एथलेटिक्स चैंपियनशिप में जीता सिल्वर मेडल

अपने पीठ दर्द को लेकर धोनी ने कही कुछ ऐसी बात

IPL 2019 : पृथ्वी शॉ ने इन्हे दिया दिल्ली की सफलता का श्रेय