रोहित बोले- प्लेइंग इलेवन की प्रतिभा का पूर्ण इस्तेमाल करने पर ध्यान

आईपीएल के सबसे सफल कप्तानों में से एक रोहित शर्मा ने अपनी टीम मुंबई इंडियंस को तीन बार टूर्नामेंट के खिताब से नवाजा है लेकिन मौजूदा सीजन में मुंबई टूर्नामेंट में बने रहने की कोशिश कर रही है. मुंबई ने लगातार दो जीत हासिल कर अपनी प्लेऑफ की दौड़ को जारी रखा है. मुंबई ने अपने पिछले दो मुकाबलों में किंग्स इलेवन पंजाब और कोलकाता नाइट राइडर्स को मात दी थी. वहीं रोहित को उम्मीद है कि उनकी टीम में युवा और अनुभवी खिलाड़ियों का मिश्रण है जो उनकी टीम के लिए फायदेमंद है. उन्होंने एक न्यूज़ एजेंसी से बातचीत के दौरान कहा कि, 'हमारे पास टी-20 के अनुभवी और युवा खिलाड़ियों को अच्छा मिश्रण है.

इस संयोजन के अनुभव और उर्जा से मैं आश्वस्त हूं कि हमारे लिए यह लीग अच्छी साबित होगी. इस दौरान रोहित ने सर्वश्रेष्ठ टीम संयोजन का चयन करने के सवाल पर कहा कि, 'अपनी टीम के लिए सर्वश्रेष्ठ करना और अंतिम एकादश का सर्वश्रेष्ठ उपयोग करने पर ही मेरा ध्यान होता है. कई बार ऐसा होता है कि आप अपनी अंतिम एकादश का इस्तेमाल सही तरीके से नहीं कर पाते हैं, इसलिए मेरी कोशिश होती है कि मैं हमेशा अपनी अंतिम-11 खिलाड़ियों का इस्तेमाल सर्वश्रेष्ठ तरीके से करूं.

तीन दोहरे शतक अपने नाम दर्ज कर चुके रोहित को नैसर्गिक प्रतिभा का धनी माना जाता है लेकिन रोहित का मानना है कि, 'मैं इस तमगे का समर्थक नहीं हूं क्योंकि मैंने अपनी काबिलियत को काफी मेहनत करके निखारा है. मैंने एक गेंदबाज के तौर पर शुरुआत की थी. बल्लेबाजी पर मैंने काफी बाद में काम किया. मैं जब भी मैदान पर कदम रखता हूं अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश करता हूं. मैं यही अंत तक करना चाहता हूं.'

 

इंग्लैंड दौरे के लिए टीम इंडिया का ऐलान, इन खिलाड़ियों को मिला IPL में अच्छे प्रदर्शन का तोहफा

IPL 2018 LIVE: घर में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करेगी राजस्थान

IPL 2018: राजस्थान के खिलाफ इस पहाड़ जैसे रिकॉर्ड को छूने उतरेंगे क्रिस गेल

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -