अब रॉबर्ट वाड्रा को हवाईअड्डों पर सुरक्षा जांच से गुजरना पड़ेगा

Sep 16 2015 09:03 PM
अब रॉबर्ट वाड्रा को हवाईअड्डों पर सुरक्षा जांच से गुजरना पड़ेगा

नई दिल्ली : कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया के दामाद रॉबर्ट वाड्रा ने पूर्व में सोशल मीडिया साइट्स फेसबुक पर कहा था की वह चाहते हैं कि भारतीय एयरपोर्टों पर वीवीआईपी सूची प्राप्त लोगो को जो तलाशी में छूट मिलती थी उस लिस्ट से मेरा नाम हटा दिया जाए। उन्होंने आगे कहा था की में भी भारत का ही एक नागरिक हूँ व मुझे भी आम नागरिक की तरह स्वत्रंत रहने का हक है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक भारतीय नागर विमानन मंत्रालय ने रॉबर्ट वाड्रा (46) को हवाई अड्डों पर से तलाशी की छूट पाए लोगों की सूची से हटा दिया है व अब वाड्रा को हवाई अड्डों पर सुरक्षा जांच से गुजरना पड़ेगा. मंत्रालय के प्रवक्ता ने दोहराया की सरकार ने घरेलू हवाई अड्डों पर तलाशी से छूट पाए लोगों की सूची की समीक्षा की थी तथा वाड्रा का नाम इसमें नहीं है। क्यौंकि पूर्व में प्रियंका गांधी के 46 वर्षीय व्यवसायी पति रॉबर्ट वाड्रा को अब तक एसपीजी सुरक्षा पाए व्यक्तियों के साथ यात्रा करने की स्थिति में हवाई अड्डों पर तलाशी से छूट प्राप्त थी। 

नागर विमानन मंत्री अशोक गजपति राजू ने दोहराया की तलाशी से छूट संवैधानिक पदों पर बैठे लोगों और विशेष संरक्षण समूह (एसपीजी) की सुरक्षा पाए लोगों को दी जाती है. व इसमें सोनिया, राहुल व प्रियंका गांधी व अन्य नेता है जो की इस लिस्ट में शामिल है. तथा इन्हे विभिन्न हवाई अड्डों पर उन सुरक्षा जांच से नहीं गुजरना पड़ता जो अन्य प्रत्येक यात्री के लिए अनिवार्य होती है। व इस मामले पर रॉबर्ट वाड्रा ने यह आरोप लगा दिया था कि यह मेरी छवि को खराब करने की साजिश है। व इस निर्णय के बाद वाड्रा ने भी ख़ुशी जाहिर करते हुए कहा की मैं इस बात की सराहना करता हूं कि अब वीवीआईपी सूची में मेरा नाम नहीं होगा। मुझे लगता है कि अब इस मुद्दे का पटाक्षेप हो चुका है और इसे मेरे खिलाफ इस्तेमाल नहीं किया जाएगा। मेरी शुभकामनाएं.