'भारत में बोलने की आज़ादी पर हो रहा हमला..', इंग्लैंड में बोले राहुल गांधी

नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने आरोप लगते हुए कहा है कि भारत में बोलने की इजाजत देने वाली संस्थाओं पर "व्यवस्थित हमला" हो रहा है। उन्होंने कहा कि बातचीत को बाधित किए जाने की वजह से 'सरकार की नीतियों को गोपनीय तरीके से प्रभावित या नियंत्रित करने वाले प्रभावशाली लोग या एजेंसियां' देश में संवाद को नए तरीके से परिभाषित कर रही हैं।

‘कैंब्रिज यूनिवर्सिटी’ के ‘कॉर्पस क्रिस्टी कॉलेज’ में सोमवार शाम आयोजित किए गए ‘इंडिया एट 75’ कार्यक्रम में राहुल गांधी ने छात्रों, विशेषकर भारतीय मूल के स्टूडेंट्स के सवालों का जवाब दिया। उन्होंने हिंदू राष्ट्रवाद, कांग्रेस पार्टी में गांधी परिवार की भूमिका और देश के लोगों को संगठित करने की कोशिशों जैसे व्यापक विषयों पर अपनी राय रखी। यूनिवर्सिटी में भारतीय मूल की शिक्षाविद डॉ. श्रुति कपिला के साथ वार्ता में राहुल ने उन सभी बिंदुओं को दोहराया, जिनका जिक्र उन्होंने पिछले हफ्ते एक सम्मेलन के दौरान किया था। राहुल गांधी ने भारतीय राजनीति पर ‘‘सरकारी नीतियों को कथित तौर पर गोपनीय तरीके से प्रभावित या नियंत्रित करने वाले प्रभावशाली लोगों या एजेंसियों’’ के प्रभाव का भी जिक्र किया।

केरल की वायनाड लोकसभा सीट से कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा कि, 'हमारे लिए भारत तब ‘जीवंत’ होता है, जब भारत बोलता है और जब भारत चुप हो जाता है, तब यह ‘बेजान’ हो जाता है। मैं देखता हूं कि भारत को बोलने की इजाजत देने वाली संस्थाओं पर हमला किया जा रहा है-संसद, चुनाव प्रणाली, लोकतंत्र की बुनियादी संरचना पर एक संगठन द्वारा कब्जा किया जा रहा है।'

'अगले 30 सालों तक भाजपा के इर्दगिर्द ही घूमेगी भारत की राजनीति...', प्रशांत किशोर की बड़ी भविष्यवाणी

कर्नाटक MLC चुनाव: भाजपा ने किया उम्मीदवारों का ऐलान, येदियुरप्पा के बेटे को टिकट नहीं

'लड़का-लड़का शादी कर लेंगे तो कोई पैदा कैसे होगा...', महिला कॉलेज पहुंचकर बोले CM नीतीश

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -