राहुल गाँधी की प्रेस वार्ता, बोले- लॉकडाउन खोले सरकार, मर रही इकॉनमी

नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज शुक्रवार को कोरोना वायरस महामारी के मुद्दे पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रेस वार्ता को सम्बोधित किया। उन्होंने कहा कि अर्थव्यवस्था को फिर से शुरू करने की जरूरत है। हम समय गंवा रहे हैं। केरल की वायनाड लोकसभा सीट से कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने कहा कि अभी सरकार की आलोचना करने का वक़्त नहीं है, किन्तु सरकार को लॉकडाउन हटाने पर फैसला करना चाहिए। 

राहुल गाँधी ने आगे कहा कि सरकार को फौरन लोगों के परिवार के लिए साढ़े सात हजार रुपये की राशि स्वीकृत करनी चाहिए। राहुल गांधी ने कहा कि लघु और माध्यम उद्योग (MSME) सेक्टर को क्रेडिट सुरक्षा योजना, छह महीने की ब्याज सब्सिडी देने की आवश्यकता है। वहीं, बड़े बिजनेस को भी सुरक्षा देने की जरुरत है। 

कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी की एक अलग तरह की शैली है, किन्तु हमें कोरोना से लड़ने के लिए मजबूत सीएम, स्थानीय नेता, डीएम की आवश्यकता है। राहुल गांधी ने कहा कि भारत में आर्थिक विकास को बढ़ाने के लिए घरेलू खपत आरंभ करने की आवश्यकता है। घरेलू खपत भारतीय इकॉनमी की जीवन रेखा है। आपको बता दें कि लंबे समय से देशभर में लॉक डाउन से इकॉनमी पर काफी असर पड़ा है और कई बड़े नेता इसको लेकर चिंता जाहिर कर चुके हैं।

दोस्त जिनपिंग को किम जोंग ने भेजा सन्देश, कोरोना वायरस पर कही बड़ी बात

युद्ध हो या महामारी, हर संकट में मानव सेवा के लिए खड़ी रहती है 'रेड क्रॉस' सोसायटी

हिन्दु और ईसाईयों के लिए 'नरक' है पाकिस्तान, सामने आई दिल दहला देने वाली रिपोर्ट

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -